featured धर्म

बकरीद पर बकरे की ऑन लाइन कैसे करें खरीददारी, जानिए सबसे आसान तरीका..

bakara 1 बकरीद पर बकरे की ऑन लाइन कैसे करें खरीददारी, जानिए सबसे आसान तरीका..

पूरे देशभर में मुस्लिम पर्व बकरीद 1 अगस्त को मनाई जाएगी। कोरोना का चलते इस बार बाजार खूबसूरत बकरों से गुलजार नहीं हो सके हैं। इसलिए सरकार ने कुर्बानी करने का सबसे आसान तारीका निकाला है। अब आप घर बैठे कुछ ही मिनटों में बकरों को खरीद सकते हैं। और घर बैठे ही आपको घर में ही इसकी डिलिवरी भई मिलेगी।

bakra 2 बकरीद पर बकरे की ऑन लाइन कैसे करें खरीददारी, जानिए सबसे आसान तरीका..
ऑनलाइन बकरों की कीमत तस्वीर के साथ दिखाई जा रही है। पंसद आने पर बकरों की होम डिलीवरी हो रही है। इसके अलावा पशु डॉटकॉम, ओएलएक्स समेत अन्य साइट पर बकरों की खरीद-फरोख्त चल रही है। वेबसाइट पर बकरा मालिक अपना पता भी अपलोड कर रहें है, ताकि कस्टमर आकर भी बकरा देख सकें।लोग वेबसाइट, इंस्टाग्राम और व्हाट्सऐप के ज़रिए बकरे ख़रीद रहे हैं। बकरा ईद के खास त्‍योहार पर कुर्बानी देने के लिए बकरों की खरीदारी करने के लिए हर राज्‍य के प्रत्‍येक शहर में जगह निर्धारित कर दी जाती है ताकि लोगों की भीड़ एकत्रित न हो सके। लेकिन इस बार स्‍थानीय प्रशासन ने कोरोना संक्रमण के कारण बकरा मंडी लगाने की इजाजत नहीं दी है। इसलिए व्‍यापारियों ने ऑनलाइन बिक्री शुरू कर दी है।

1 अगस्त को पड़ने वाले पर्व बकरीद को लेकर सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देश को ध्यान में रखकर बकरों की खरीद-फरोख्त की जा रही है। कोरोना के कारण मंडी पर पाबंदी है, इसलिए ऑनलाइन बकरों की बिक्री की जा रही है। हालांकि बहुत अच्छा रिस्पांस नहीं मिल रहा है।
आपको बता दें, बकरों की बिक्री के लिए ऑनलाइन समूह बनाये गये हैं। जहां ग्राहकों के लिए बकरे की तस्‍वीर, वीडियो और कीमतों को शेयर किया जाता है।

बकरा पसंद आने पर व्‍यापारी से संपर्क किया जाता है और बकरे की जांच के बाद उसका सौदा तय किया जाता है।
हालाकि बकरा ईद पर बकरा मंडी नहीं लगने से बकरा पालकों में भी मायूसी छाई हुई है क्योंकि इस दिन के लिए लोग बकरों की अच्छी तरह से परवरिश करके तैयार करते हैं। कोरोना बीमारी के चलते बकरा मंडी नहीं लगने से मायूसी छाई हुई है लेकिन जो लोग ऑनलाइन बकरों बिक्री नहीं कर सकते उनके लिए काफी मुश्किल पड़ रही है।

https://www.bharatkhabar.com/crpf-jawan-shot-himself/
फिलहाल तो लोगों के पास बकरीद मनाने विकल्प है। कोरोना इस साल त्यौहार हो या काम सभी को थाम कर रख दिया है।

Related posts

यूपी के अमेठी में दलित प्रधान के पति को जिन्दा जलाया, 3 लोग गिरफ्तार

Samar Khan

प्रियंका गांधी ने झाड़ू लगाना बताया स्वाभिमान और सादगी का प्रतीक

Kalpana Chauhan

टीएमसी नेता बाबुल सुप्रियो कोरोना पॉजिटिव, पत्नी और पिता सहित कई स्टाफ भी संक्रमित

Rahul