shashi kala शशिकला को टोपी और पन्नीर को आयोग ने दिया बिजली का खंभा

चेन्नई। तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता की मौत के बाद AIADMK पार्टी के चुनाव चिन्ह पर मामला गर्माते ही आयोग ने इसे सील करने का फैसला ले लिया। AIADMK पार्टी के दो गुटों में बंट जाने के बाद दोनों ने ही अलग-अलग राजनीतिक पार्टी का गठन कर लिया है। चुनाव आयोग ने भी दोनों गुटों के फैसले को मंजूर कर लिया है।

शशिकला गुट की नई पार्टी का नाम है AIADMK-अम्मा और इसका चुनाव चिह्न है टोपी बताया जा रहा है। जबकि पार्टी के दूसरे गुट पन्नीरसेल्वम की पार्टी का नाम है- AIADMK पुराची थलावी अम्मा और इसका चुनाव चिह्न है बिजली का खंभा बताया जा रहा है।

shashi kala शशिकला को टोपी और पन्नीर को आयोग ने दिया बिजली का खंभा

दो गुटों में पार्टी

गौरतलब है कि जयललिता की मौत के बाद पार्टी दो गुटों में बंट गई है। शशिकला और पन्नीरसेल्वम के बीच AIADMK के सिंबल को लेकर विवाद के बाद बुधवार को चुनाव आयोग ने पार्टी के चुनाव चिह्न ‘दो पत्तियां’ को ज़ब्त कर लिया।

आरके नगर विधानसभा सीट पर चुनाव

पहले इस सीट से फॉर्मर सीएम जयललिता चुनकर आईं थीं। उनके निधन के बाद यह सीट खाली हो गई है। जिस पर AIDMK के वाइस जनरल सेक्रेटरी टीटीवी दिनकरन चुनाव लड़ेंगे। वहीं पन्नीरसेल्वम गुट ने ई. मधुसूदन को मैदान में उतारा है। मामले में एक गुट की अगुवाई जनरल सेक्रेटरी वीके शशिकला कर रही हैं, जो कि पावर में है। जबकि, दूसरे का फॉर्मर सीएम ओ.पन्नीरसेल्वम। इस सीट पर 12 अप्रैल को चुनाव होने वाले है।

 

जल्द पता चलेगा कौन थे गुमनामी बाबा, पता लगाने के लिए आयोग का हुआ गठन

Previous article

प्यार के बदले मौत की सजा, पेड़ पर लटका मिला युवक का शव

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured