featured भारत खबर विशेष

जमीन से आ रहीं अजीब आवाजें, वैज्ञानिकों ने की भयंकर तबाही की चेतावनी जारी..

earthquick 1 जमीन से आ रहीं अजीब आवाजें, वैज्ञानिकों ने की भयंकर तबाही की चेतावनी जारी..

भूकंप को लेकर वैज्ञानिकों में टेशन बढ़ती जा रही है। और इसका सबसे बड़ा कारण धरती पर लगातार बढ़ते भूकंप के झटके हैं। भूकंप इतना क्यों आ रहा है। इसका किसी के पास फिलहाल कोई जवाब नहीं है। क्योंकि आज से पहले इस तरह की चीजें कभी देखने को नहीं मिली हैं। इस बीच वैज्ञानिकों ने भूकंप को लेकर बड़ी चेतावनी जारी कर दी है।

भूकंप के झटकों से हिला ईरान,एक की मौत, कई घर क्षतिग्रस्त
यूनिवर्सिटी ऑफ अल्बर्टा के शोधकर्ताओं ने कहा है कि, नेपाल में पेट्रोल की खोज के समय जमीन के अंदर से अलग तरह की आवाजें सुनाई दीं। शोधर्ताओं का कहना है कि,जमीन की परत और टेक्टोनिक प्लेट्स में लगातार हो रहे बदलावों की वजह से हिमालयी क्षेत्रों से इस तरह की आवाजें आ रही हैं।शोधकर्ताओं ने दावा किया है कि भूकंप आने पर सबसे ज्यादा बुरी हालत नेपाल के दक्षिण-पश्चिम इलाके में हो सकती है। भूकंप ने के लिए गंगा नदी के बहाव क्षेत्र के नीचे जमीन के अंदर होने वाले बदलाव प्रमुख जिम्मेदार होंगे।

यूनिवर्सिटी ऑफ अल्बर्टा के शोधकर्ता माइक डुवाल ने बताया कि उनकी टीम ने नेपाल के हिमालयी जमीन के नीचे तेजी से हो रहे बदलावों को रिकॉर्ड किया है। ये बदलाव घनी आबादी वाले इलाकों को हिलाकर रख देंगे।माइक डुवाल की टीम ने नेपाल की जमीन के नीचे की लेयर का अध्ययन किया। उन्हें पता चला कि नेपाल की पहाड़ी जमीन के नीचे की लेयर गंगा के बहाव क्षेत्र के नीचे आने वाली लेयर से सटी हुई है। गंगा के नीचे की जमीन से लगातार आवाजें आ रही हैं जो ये बताती हैं कि गंगा के नीचे बड़ी हलचल हो रही है। जिसका सीधा असर नेपाल पर पड़ेगा।

https://www.bharatkhabar.com/mp-governor-lalji-tandon-passed-away/
इन सभी घटनाओं को देखते हुए वैज्ञानिकों ने चेतावनी जारी की है। आपको बता दें, साल 2015 से अभी तक कोई तबाही मचाने वाला बड़ा भूकंप नहीं आया है। लेकिन जिस तरह की घटनाएं देखने को मिल रही हैं। उन्हें देखकर लगता है कि, जल्द ही धरती किसी बड़े भूकंप से दहलेगी। इस बात को लेकर कई वैज्ञानिक चेतावनी जारी कर चुके हैं।

Related posts

देर रात से अल्मोड़ा में हो रही है रिमझिम बारिश, 5 डिग्री सेल्सियस के करीब पहुंचा तापमान

Neetu Rajbhar

PM का बांग्लादेश दौरा: मंदिरों में पूजा अर्चना करेंगे पीएम मोदी, की गई हैं खास तैयारियां

Saurabh

जम्मू-कश्मीरः श्रीनगर पहुंचे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उप-राज्यपाल ने किया स्वागत

pratiyush chaubey