featured देश राज्य

कार चालक की जल्दबाजी  के चलते पेट्रोल पंप में लगी आग, टला बड़ा हादसा

aag petrol pump18 5794297 835x547 m कार चालक की जल्दबाजी  के चलते पेट्रोल पंप में लगी आग, टला बड़ा हादसा

हरियाणा के  बद्दी नालागढ़ नेशनल हाईवे पर मोतिया प्लाजा के पासएक पेट्रोल पंप पर कार चालक की जल्दबाजी  के चलते पंप में आग लग गई जिससे एक बड़ा हादसा होने टला। बद्दी नालागढ़ नेशनल हाईवे पर मोतिया प्लाजा के पास हिंदुस्तान पैट्रोलियम के पेट्रोल पंप पर कार चालक की जल्दबाजी के चलते पंप में लग गई। अगर मौके पर  पेट्रोल पंप कर्मियों और आसपास के लोग सर्तकता से काम नहीं लेते तो एक बड़ा हादसा घटित हो सकता है। मिली जानकारी के अनुसार बद्दी नालागढ़ नेशनल हाईवे पर मोतिया प्लाजा के सामने हिंदुस्तान पेट्रोलियम के पेट्रोल पंप पर एक कार चालक की जल्दबाजी के चलते पंप की मशीन में आग लग गई। गनीमत यह रही कि पंप कर्मियों ने तुरंत पंप पर रखें फायर उपकरणों की मदद से आग पर काबू पा लिया ।

बता दें कि हादसे की जानकारी देते हुए पंप ऑपरेटर संजय ने बताया कि एक कार चालक पंप पर तेल डलवाने आया। जिस वक्त पैट्रोल कर्मी गाड़ी में तेल डाल रहा था तो कार चालक ने एकदम से गाड़ी आगे बढ़ा ली। जिससे मशीन की नोजल गाड़ी के साथ ही आगे खींच ली और मशीन नीचे गिर गई। मशीन के गिरते ही शॉर्ट सर्किट से आग फैल गई। जिसे उसके और उसके साथ के कर्मियों द्वारा और आसपास के दुकानदारों द्वारा आग पर काबू पाया गया। अगर यहां थोड़ी देरी हो जाती तो एक बड़ा हादसा हो सकता था।

fire 1 5486709 835x547 m कार चालक की जल्दबाजी  के चलते पेट्रोल पंप में लगी आग, टला बड़ा हादसा

क्योंकि उस समय पंप पर कई गाडिय़ां तेल डलवा रही थी व एक दर्जन के करीब पंप कर्मचारी भी वहां उपस्थित थे। दमकल अधिकारी बद्दी कुलदीप ठाकुर का कहना है कि उनके पास ऐसी सूचना नहीं आई है व शायद आग पर काबू पा लिया गया होगा तभी उनके पास सूचना नहीं आई है। डी.एस.पी. नवदीप का कहना है कि पैट्रोल पंप पर आग लगने की सूचना उन्हें मिली है व मामले की जांच की जा रही है।

Related posts

इंग्लैंड के खिलाफ तीन टेस्ट मैच की सीरीज के लिए की टीम मे शामिल शमी को कोर्ट का झटका.

mahesh yadav

पुलवामा हमला: पाकिस्तान चाहता है शांति…संयुक्त राष्ट्र से की अपील – पाकिस्तान विदेश मंत्री

bharatkhabar

सीएम रावत ने की प्रदेश में मनरेगा के अन्तर्गत राज्य रोजगार गांरटी परिषद की समीक्षा

Rani Naqvi