September 26, 2022 8:24 am
featured पंजाब

कोविड-19 के चलते पंजाब सरकार ने राज्य में आगामी एक मई तक कर्फ्यू की अवधि बढ़ाने का एलान किया

कैप्टन अमरिंदर सिंह कोविड-19 के चलते पंजाब सरकार ने राज्य में आगामी एक मई तक कर्फ्यू की अवधि बढ़ाने का एलान किया

चंडीगढ़। कोविड-19 के सामुदायिक फैलाव के खतरे को देखते हुए पंजाब सरकार ने शुक्रवार को राज्य में आगामी एक मई तक कर्फ्यू की अवधि बढ़ाने का एलान किया है। यह फैसला मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की अध्यक्षता में हुई मंत्रिमंडल की बैठक में लिया गया। प्रवक्ता के अनुसार, कर्फ्यू बढ़ाने का फैसला इसलिए लिया गया ताकि इस महामारी के सामुदायिक फैलाव को रोका जा सके और गेहूं की कटाई/खरीद के सीजन में मंडियों में भीड़ से भी बचा जा सके।

बता दें कि कैप्टन इस फैसले को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को शनिवार को होने वाली मुख्यमंत्रियों की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में भी बताएंगे। आने वाले हफ्तों में महामारी के फैलने की गंभीर आशंका का हवाला देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि कर्फ्यू की बंदिशें बहुत जरूरी थी ताकि मेडिकल ढांचे पर उसकी क्षमता से अधिक बोझ न पड़ सके। 

स्कूलों में छुट्टियां 10 मई तक, बाकी रहते पेपर किए रद्द

शिक्षा मंत्री विजय इंदर सिंगला ने कहा है कि शुक्रवार को पंजाब कैबिनेट की मीटिंग में राज्य के दोनों सरकारी और निजी स्कूलों की गर्मियों की छुट्टियां पहले करने का फैसला लिया गया है, ताकि कोरोना को फैलने से रोकने के लिए किए गए लॉकडाउन के कारण हो रहे पढ़ाई के नुकसान को कम किया जा सके। सिंगला ने बताया कि अब एक महीने के लिए गर्मी की छुट्टियां 11 अप्रैल से शुरू होंगी और 10 मई तक चलेंगी।

शिक्षा मंत्री ने कहा कि कैबिनेट ने यह भी फैसला किया कि पांचवी और आठवीं कक्षा के विद्यार्थियों ने कर्फ्यू से पहले जो पेपर दे दिए थे, उनके आधार पर ही पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड (पीएसईबी) इन विद्यार्थियों को अगली कक्षाओं में भेजेगा।  सिंगला ने कहा कि कर्फ्यू के कारण बच्चों की पढ़ाई के हो रहे नुकसान के कारण अभिभावक चिंतित थे और छुट्टियां जल्द करने के इस फैसले से उन्हें राहत मिलेगी।

उन्होंने कहा कि सभी निजी स्कूलों को भी 11 अप्रैल से छुट्टियों की शुरुआत करनी चाहिए लेकिन वह अपनी जरूरत के अनुसार इन छुट्टियों की समय सीमा बढ़ाने के लिए स्वतंत्र हैं। कैबिनेट मंत्री ने कहा कि पीएसईबी ने कर्फ्यू लगाने से पहले पांचवीं कक्षा के तीन पेपर ले लिए थे और अब कैबिनेट ने बाकी रहते दो पेपर रद्द करने का फैसला किया है। उन्होंने आगे कहा कि आठवीं कक्षा के संबंध में प्रैक्टिकल परीक्षाएं शेष थीं लेकिन अब बोर्ड दोनों कक्षाओं के लिए कोई अन्य पेपर लिए बगैर ही परिणामों की घोषणा करेगा।

Related posts

पीलीभीत पहुंचे मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य को किसानों ने दिखाए काले झंडे, भड़के नेता

Shailendra Singh

गोरखपुर:157 बच्चों का पालन पोषण करेगी योगी सरकार, कोरोना ने छीना सर से मां-बाप का साया

Shailendra Singh

मुंबई के परेल इलाक़े में हिंदमाता सिनेमा के पास 12 मंज़िला क्रिस्टल टावर में भीषण आग

Rani Naqvi