डॉ.अर्चना श्रीवास्तव ने स्वास्थ्य मिशन से संबंधित अधिकारियों की बैठक ली

देहरादून। महानिदेशक स्वास्थ्य डॉ.अर्चना श्रीवास्तव ने बीते मंगलवार को राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन में तैनात संविदा कर्मचारियों के अनुबंध विस्तारिकरण के समय प्रेगनेन्सी टेस्ट कराए जाने संबंधित दैनिक हिन्दुस्तान में प्रकाशित समाचार का संज्ञान लेते हुए स्वास्थ्य मिशन से संबंधित अधिकारियों की बैठक ली।

बता दें कि महानिदेशक ने राष्ट्रीय स्वास्थ्य की निदेशक डॉ.अंजलि नौटियाल तथा संविदा कार्मिकों से संबंधित संयुक्त निदेशक डॉ.बी.एस.टोलिया से वस्तु स्थिति की जानकारी एवं संविदा कार्मिकों से संबंधित एच0आर0 रूल्स के बारे में विद्यमान व्यवस्था की जानकारी प्राप्त की, जिसमें बताया गया कि संविदा कार्मिकों का केवल नियुक्ति के समय ही सामान्य स्वास्थ्य परीक्षण कराए जाने की व्यवस्था है, इसके अतिरिक्त विस्तारिकरण के समय किसी प्रकार का टेस्ट या जांच नहीं होती है।

वहीं इस प्रकरण पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी पिथौरागढ़ ने स्वयं ही शुद्धीपत्र के माध्यम से स्वीकार किया है कि उनके कार्यालय आदेश में त्रुटिवश महिला संविदा कर्मचारियों की संविदा अवधि विस्तार हेतु प्रेगनेन्सी टेस्ट किए जाने का उल्लख किया गया है जिसे तत्काल निरस्त कर दिया गया है। महानिदेशक डॉ.अर्चना श्रीवास्तव ने मीडिया से की गई वार्ता में पुनः स्पष्ट किया कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अन्तर्गत महिला संविदा कार्मिकों के लिए प्रेगनेन्सी टेस्ट जैसा कोई भी नियम वर्तमान में विद्यमान नहीं है।