September 25, 2022 11:51 am
featured Sputnik News - Hindi-Russia दुनिया

डोनाल्ड ट्रंप ने कराया अपना दूसरा कोरोना टेस्ट, संक्रमित नहीं पाए गए नहीं मिले बीमारी के लक्षण

donald डोनाल्ड ट्रंप ने कराया अपना दूसरा कोरोना टेस्ट, संक्रमित नहीं पाए गए नहीं मिले बीमारी के लक्षण

वॉशिंगटन: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप कोरोना वायरस की दूसरी जांच में संक्रमित नहीं पाए गए और वह ‘‘स्वस्थ” हैं तथा उनमें इस जानलेवा बीमारी के कोई लक्षण नहीं दिख रहे हैं। ट्रंप के डॉक्टर सीन कोनली ने दूसरी जांच कराने की कोई वजह नहीं बताई, हालांकि उन्होंने बताया कि राष्ट्रपति की जांच ऐसी तकनीक से की गई जिसने 15 मिनट में ही नतीजे दे दिए। कोनली ने व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव स्टेफनी ग्रीशम को बृहस्पतिवार को भेजे एक ज्ञापन में कहा, ‘‘राष्ट्रपति कोविड-19 की जांच में संक्रमित नहीं पाए गए।” उन्होंने कहा, ‘‘आज सुबह राष्ट्रपति की एक नयी जांच प्रणाली के इस्तेमाल से कोविड-19 की फिर से जांच की गई। वह स्वस्थ हैं तथा उनमें इस रोग के कोई लक्षण नहीं हैं। महज एक मिनट में नमूने लिए गए और 15 मिनट में नतीजे आ गए।

बता दें कि इस रिपोर्ट पर ट्रंप ने कहा, ‘‘मैंने जांच कराई थी. यह (रिपोर्ट) अभी आई है, यह व्हाइट हाउस के डॉक्टर ने दी है।” ट्रंप ने कहा कि उन्होंने जांच इसलिए कराई थी क्योंकि उन्हें जानने की उत्सुकता थी कि यह कितनी जल्दी और तेजी से काम करता है। इससे पहले वह संक्रमित पाए गए दो लोगों के संपर्क में आने के बाद मार्च के मध्य में हुई जांच में भी संक्रमित नहीं पाए गए थे। ट्रंप की यह जांच ऐसे समय में हुई है जब अमेरिका में इस संक्रमण के 2,36,339 मामले सामने आए हैं, जो दुनिया में सबसे अधिक है तथा यहां इस बीमारी से 5,000 से ज्यादा लोग जान गंवा चुके हैं। इस बीच, ट्रंप ने कहा कि अमेरिका कोविड-19 के खिलाफ अपनी लड़ाई के ‘‘बहुत अहम” चरण में है। उन्होंने तेजी से फैल रही इस वैश्विक महामारी के खिलाफ जंग जीतने के लिए अमेरिकियों को घरों के भीतर रहने और अगले चार हफ्तों के लिए सामाजिक दूरी बनाए रखने की सलाह दी।

व्हाइट हाउस ने बताया कि अमेरिका में 30.5 करोड़ से अधिक लोग घरों के भीतर सिमट गए हैं। व्हाइट हाऊस के कोरोना वायरस कार्यबल के सदस्यों ने बृहस्पतिवार को इस पर दुख जताया कि प्रत्येक अमेरिकी कोविड-19 के सामाजिक दूरी के नियम का पालन नहीं कर रहा है। ट्रंप ने अपने नियमित संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘हम कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई के बहुत अहम चरण में हैं। यह महत्वपूर्ण है कि प्रत्येक अमेरिकी इसे फैलने से रोकने के लिए 30 दिनों के लिए हमारे दिशा निर्देशों का पालन करें। अगले चार हफ्तों में हम जो बलिदान देंगे उससे असंख्य अमेरिकियों की जिंदगियां बचेगी। उन्होंने कहा, ‘‘हम कई अमेरिकियों की जिंदगी बचाने जा रहे हैं और हमारे हाथ में हमारा भाग्य है। सामाजिक दूरी, स्वच्छता बनाए रखकर और घरों में रहकर हम इस युद्ध को जीत सकते हैं।

जॉन्स हॉप्किन्स कोरोना वायरस ट्रैकर के आंकड़ों के अनुसार, न्यूयॉर्क और उसके आसपास न्यूजर्सी तथा कनेक्टिकट जैसे इलाकों में ही कोविड-19 के 1,20,000 से अधिक मामलों की पुष्टि हुई है जो अपने आप में ही चीन में संक्रमितों की संख्या से कहीं अधिक है जहां से यह बीमारी शुरू हुई। इन तीनों इलाकों में मृतकों की संख्या 3,000 के पार चली गई है। दुनियाभर में कोरोना वायरस के मामले बृहस्पतिवार को 10 लाख का आंकड़ा पार कर गए और मृतकों की संख्या 50,000 के पार चली गई है। ट्रंप ने कहा कि अमेरिका दुनिया के सबसे अच्छे वैज्ञानिकों, डॉक्टरों और शोधकर्ताओं के साथ काम कर रहा है। उन्होंने कहा, ‘‘हम वायरस के खिलाफ रक्षा के साथ-साथ इलाज पद्धति और इसके टीके के नए तरीके विकसित करने की दौड़ में हैं तथा हमने काफी प्रगति कर ली है।

Related posts

40 लाख मजदूर परिवारों को जन आरोग्य योजना से जोड़ा जाएगा

sushil kumar

मलेशियाई प्रधानमंत्री को राष्ट्रपति भवन में मिला ‘गार्ड ऑफ ऑनर’

Rahul srivastava

मोदी के खिलाफ बोला तो नहीं मिल रहा काम-प्रकाश राज

mohini kushwaha