हेल्थ

अधिक उम्र की महिलाओं को हार्ट अटैक से बचने के लिए डॉक्टर ने दी ये सलाह?

blood pressure अधिक उम्र की महिलाओं को हार्ट अटैक से बचने के लिए डॉक्टर ने दी ये सलाह?

हार्ट अटैक आना अब आम बात हो गई है। ज्यादातर लोगों की मौत हार्ट अटैक से हो रही है। महिलाओं में हार्ट अटैक के केस ज्यादा देखे गए हैं। 40 साल की उम्र की शुरुआत में महिलाओं के ब्लड प्रेशर में हल्की बढ़त से 50 साल की उम्र में सामान्य ब्लड प्रेशर वालों के मुकाबले एक्यूट कोरोनरी सिंड्रोम का दोगुना खतरा होता है। ये खुलासा विश्व हाइपरटेंशन दिवस पर यूरोपीय जर्नल ऑफ प्रीवेंटिव कार्डियालोजी में प्रकाशित रिसर्च से हुआ है। रिसर्च में सुझाया गया है, “महिलाओं के स्वस्थ महसूस करने के बावजूद उन्हें अपना ब्लड प्रेशर डॉक्टर से जांच कराते रहना चाहिए और नियमित अंतराल पर होना चाहिए।”

रिसर्च से पता चला था कि हाई ब्लड प्रेशर पुरुषों के मुकाबले महिलाओं में दिल की बीमारी का ज्यादा खतरा रहता है। उसके अलावा, युवा और अधेड़ उम्र की महिलाओं का औसत ब्लड प्रेशर पुरुषों की तुलना में कम होता है। रिसर्च का मकसद ये पता लगाना था कि क्या ब्लड प्रेशर में मामूली बढ़त (130-139/80-89 mmHg) पुरुषों के मुकाबले महिलाओं में एक्यूट कोरोनरी सिंड्रोम का ज्यादा मजबूत जोखिम कारक है। सामुदायिक आधारित रिसर्च में 41 साल की उम्र पर 6,381 महिलाओं और 5,948 पुरुषों के ब्लड प्रेशर को मापा गया और 16 साल के दौरान हार्ट अटैक को भी रिकॉर्ड किया गया।

शोधकर्ताओं ने पाया कि महिलाओं के ब्लड प्रेशर में मामूली बढ़त होने से जिंदगी के बीच में एक्यूट कोरोनरी सिंड्रोम दोहरे खतरे से जुड़ा है। यूनिवर्सिटी ऑफ बर्गेन, नार्वे की शोधकर्ता डॉक्टर इस्टर क्रिंगलैंड ने कहा، “हमारे विश्लेषण पुष्टि करते हैं कि ब्लड प्रेशर में मामूली बढ़त लिंग विशिष्ट तौर तरीकों में एक्यूट कोरोनरी सिंड्रोम के खतरे को प्रभावित करती है। नतीजे उभरते हुए सबूत में संकेत देते हैं कि हाई ब्लड प्रेशर विशेष रूप से महिलाओं के दिल पर प्रतिकूल प्रभाव रखता है।”

उन्होंने कहा, “युवा महिलाओं का ब्लड प्रेशर पुरुषों के मुकाबले औसतम ज्यादा कम होता है, लेकिन तीसरे दशक शुरू होने पर महिलाओं में तेज वृद्धि देखी गई। इसलिए हाई ब्लड प्रेशर का तीन गुना दोनों लिंग में समान है, इसलिए युवा महिलाओं का वास्तव में तुलनात्मक रूप से हाई ब्लड प्रेशर पहचान होने से पहले पुरुषों के मुकाबले ज्यादा बढ़ता है।” रिसर्च की लेखिका ने कहा, “महिलाओं को अपना ब्लड प्रेशर जानना चाहिए। सामान्य ब्लड प्रेशर बनाए रखने के लिए सलाह दी जाती है कि शरीर का सामान्य वजन बनाए रखें, स्वस्थ डाइट का इस्तेमाल करें और नियमित व्यायाम करें।

Related posts

रात को चाहिए सुकून वाली नींद तो शुरु करें इन चीजों का सेवन

Vijay Shrer

संगीत सुनने से जुड़े हैं ये हेल्थ बेनिफिट…

Anuradha Singh

No Smoking Day: मॉर्डन जनरेशन के लिए बना फैशन, बच्चों को कर रहा है अट्रेक्‍ट

mohini kushwaha