featured देश राज्य

द्रमुक कार्यकारी अध्यक्ष का बयान कहा, करुणानिधि की बीमारी के सदमे से 21 पार्टी कार्यकर्ताओं की हुई मृत्यु

Untitled द्रमुक कार्यकारी अध्यक्ष का बयान कहा, करुणानिधि की बीमारी के सदमे से 21 पार्टी कार्यकर्ताओं की हुई मृत्यु

नई दिल्ली : द्रमुक ने बुधवार को कहा कि 21 पार्टी कार्यकर्ताओं की मृत्यु हो गई है जो पार्टी प्रमुख एम करूणानिधि के बीमार होने और अस्पताल में भर्ती होने का ‘सदमा’ बर्दाश्त नहीं कर पाए। द्रमुक ने कार्यकर्ताओं से अपील की है कि 94 वर्षीय पूर्व मुख्यमंत्री के स्वास्थ्य के मद्देनजर वे कोई कठोर कदम नहीं उठाएं।

Untitled द्रमुक कार्यकारी अध्यक्ष का बयान कहा, करुणानिधि की बीमारी के सदमे से 21 पार्टी कार्यकर्ताओं की हुई मृत्यु

कार्यकारी अध्यक्ष ने दी जानकारी

द्रमुक के कार्यकारी अध्यक्ष एम के स्टालिन ने कहा, ‘मुझे यह जानकर बहुत दुख हुआ है कि पार्टी के 21 कार्यकर्ताओं की मृत्यु हो गई है जो पार्टी अध्यक्ष कलैगनार की बीमार होने का सदमा बर्दाश्त नहीं कर पाए।’ स्टालिन ने कहा कि चूंकि करुणानिधि कावेरी अस्पताल में लगातार पांचवें दिन गहन देखभाल में हैं।

ये भी पढ़ें : तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री और द्रविड़ मुन्नेत्र कड़गम प्रमुख एम. करुणानिधि की बिगड़ी तबियत,कावेरी अस्पताल में भर्ती

कार्यकारी अध्यक्ष ने जताया दुख

साथ ही उन्होंने कहा कि उन्हें इन मौतों को लेकर बहुत दुख हुआ। उन्होंने पीड़ित परिवारों के प्रति संवेदना जताई। उन्होंने यद्यपि मृतकों की पहचान का खुलासा नहीं किया। स्टालिन ने अस्पताल से एक बयान के हवाले से कहा कि पार्टी संरक्षक के स्वास्थ्य की स्थिति ‘सामान्य’ हो रही है और चिकित्सकों का एक दल उनकी निगरानी कर रहा है।

‘यह अच्छी खबर हमें साहस दे रही है

इस दौरान उन्होंने कहा,‘यह अच्छी खबर है और यह हमें साहस दे रही है।’ उन्होंने कहा कि कार्यकर्ताओं द्वारा अपने नेता को वापस आने आने को लेकर की गई भावनात्मक अपील बेकार नहीं जाएगी। करुणानिधि के पुत्र एवं द्रमुक में उनके उत्तराधिकारी स्टालिन ने कार्यकर्ताओं से कहा कि वह यह जानें कि वह एक भी पार्टी कार्यकर्ताओं के जीवन का नुकसान बर्दाश्त नहीं कर सकते।

  -BY -ANKIT TRIPATHI

Related posts

भ्रष्टाचार के आरोप में केजरीवाल के प्रधान सचिव गिरफ्तार

bharatkhabar

सावन में भूलकर भी न करें ये काम वरना बिगड़ जाएंगे सारे अच्छे काम..

Mamta Gautam

श्री बद्रीनाथ और केदारनाथ धाम में पेटीएम से स्वीकार होगा दान

Trinath Mishra