डीएम ने कोरोना को लेकर बुलाई अहम बैठक, लापरवाह अफसरों को दी ये चेतावनी

लखनऊ: कोरोना महामारी को देखते हुए जिले के आलाधिकारी अपने अपने स्तर पर काम कर रहे हैं। इसी कड़ी में जिलाधिकारी रोशन जैकब ने कोविड ड्यूटी में लगे सभी प्रभारियों, नोडल अफसरों और चिकित्सा अधिकारियों को सख्त निर्देश जारी किया है। जिलाधिकारी रौशन जैकब ने कहा है कि कोविड कमांड सेंटर से लेकर विभिन्न ड्यूटी वाले स्थानों पर संबंधित अधिकारी मौजूद रहें।

सोमवार को होगी अहम मीटिंग

इसके लिए डीएम रोशन जैकब ने सोमवार को सभी प्रभारियों, नोडल अफसर और चिकित्सीय अधिकारियों की इसके लिए मीटिंग बुलाई है। इसके लिए RTPCR टेस्ट में पॉजिटिव छोड़कर सभी को ड्यूटी में आना अनिवार्य किया गया है। उन्होंने सुबह ग्यारह बजे सभी अधिकारियों को बैठक में शामिल होने का सख्त निर्देश जारी किया है। मीटिंग में शामिल न होने वाले अधिकारियों पर डीएम ने सख्त कार्रवाई की चेतावनी जारी की है। जिलाधिकारी रौशन जैकब ने साफ कर दिया है कि कोविड को लेकर लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों को अनिवार्य सेवानिवृत्ति दी जाएगी। उन्होंने कहा कि लापरवाह अफसरों को किसी भी हाल में बख्शा नहीं जाएगा।

अधिकारियों की आ रही शिकायतें

बता दें कि राजधानी लखनऊ में एक तरफ कोरोना का कहर देखने को मिल रहा है वहीं दूसरी तरफ अधिकारियों की लापरवाही भी देखने को मिल रही है। कोविड अस्पतालों और अन्य कार्यों में लगे अधिकारियों की जगह जगह से शिकायतें मिल रही हैं।

इन्हीं शिकायतों का संज्ञान लेते हुए जिलाधिकारी रौशन जैकब ने सोमवार को अधिकारियों की ये मीटिंग बुलाई है। गौरतलब है कि जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश कोरोना से संक्रमित हैं जिसकी वजह से रौशन जैकब को लखनऊ का प्रभारी डीएम बनाया गया है। जब से रौशन जैकब लखनऊ की जिलाधिकारी बनी हैं तभी से वो ताबड़तोड़ नए नए फैसले ले रही हैं और अधिकारियों के पेंच कस रही हैं।

कोरोना से निपटने के लिए युद्धस्तर पर जुटे सीएम योगी, अब माननीयों को दी ये छूट

Previous article

जनता के लिए खोला जाए बरेली का सेना अस्पताल: राजेश अग्रवाल

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured