डीएम ने प्राइवेट व सरकारी अस्पतालों के पदाधिकारियों की बुलाई बैठक, दिए ये निर्देश

लखनऊ: राजधानी लखनऊ में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने एक बैठक की। ये बैठक स्मार्ट सिटी सभागार में आयोजित की गई थी। इस बैठक में उनके साथ मंडलायुक्त रंजन कुमार और पुलिस आयुक्त डीके ठाकुर मौजूद रहे।

अस्पतालों के पदाधिकारी रहे मौजूद

इसके अतिरिक्त सरकारी और गैरसरकारी अस्पतालों के पदाधिकारी इस बैठक में मौजूद रहे। इस मौके पर डीएम अभिषेक प्रकाश ने आलाधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि कोविड-19 के बढ़ते हुए संक्रमण को देखते हुए आरएमएल, केजीएमयू, एसजीपीजीआई, एरा, इंटीग्रल व टीएसएम हास्पिटलों में बेड की संख्या को बढ़ाया जाए।

बेड की संख्या बढ़ाने पर दे विशेष ध्यान 

डीएम ने कहा कि कोरोना संक्रमण बढ़ रहा है इसलिये अस्पतालों में बेड की संख्या बढ़ाने पर विशेष जोर दिया जाए। डीएम ने कहा कि सभी अधिकारी और हास्पिटल के पदाधिकारी खुद व अपने परिवार और अपने परिचितों को मास्क लगाने और कोविड प्रोटोकॉल का अनुपालन करने के लिए संकल्प पत्र भरवाएं, जिससे कि इस संक्रमण को रोका जा सके।

भरवाया जाए संकल्प पत्र: जिलाधिकारी 

इसके अलावा डीएम ने निर्देश किया कि जिले के सभी इंस्टीट्यूट/मेडिकल कालेजों आदि में भी लोगो से संकल्प पत्र भरवाया जाए। ताकि सभी लोग मास्क पहनने, सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन करने के लिए जागरूक हो सके।

उन्होंने बताया कि लोगो की जागरूकता ही इस संक्रमण पर रोक लगा सकती है। संकल्प लें कि हम और हमारे परिवारजन बिना मास्क के कही भी नही जाएंगे। इसके अलावा जो भी बिना मास्क के दिखेगा उसे हम लोग टोकेंगे और उसको मास्क लगवाएंगे।

COVID हेल्पडेस्क की हो स्थापना

वहीं जिलाधिकारी ने निर्देश दिया की कल से जनपद के समस्त छोटे-बड़े कार्यालयों/प्रतिष्ठानो/दुकानों आदि में कोविड हेल्पडेस्क की स्थापना करना अनिवार्य है। यदि किसी के द्वारा उक्त की अवहेलना की जाती है तो उसके विरुद्ध एपेडेमिक एक्ट के तहत कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

साथ ही निर्देश दिया गया कि कोविड प्रोटोकॉल का अनुपालन कराने वाली प्रत्येक टीम के द्वारा जनपद के 20 स्पॉट पर औचक निरीक्षण किया जाएगा और बिना मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग की अवहेलना करने वाले लोगो पर कार्रवाई की जाएगी।

नियमों का पालन न होने पर हो कार्रवाई

इसके अलावा उक्त टीमें छोटे-बड़े कार्यालयों/प्रतिष्ठानो/दुकानों में कोविड हेल्पडेस्क की स्थिति का भी निरीक्षण करेंगी। यदि किसी प्रतिष्ठान, दुकान या कार्यालय में कोविड हेल्पडेस्क नही पाई जाती है तो उक्त टीम कड़ी कार्यवाही करना सुनिश्चित करेगी।

मास्क पहनना किया जाए अनिवार्य 

बता दें कि इससे पूर्व जिलाधिकारी द्वारा सभी RWA अपार्टमेंट्स में कोविड हेल्पडेस्क की स्थापना कराने का निर्देश दिया गया था। जिसके सम्बन्ध में संयुक्त सचिव लखनऊ विकास प्राधिकरण द्वारा बताया गया कि लगभग सभी अपार्टमेंट्स में कोविड हेल्पडेस्क की स्थापना करा दी गई है।

कल तक शत प्रतिशत अपार्टमेंट्स में कोविड हेल्पडेस्क की स्थापना हो जाएगी। साथ ही बताया कि सभी अपार्टमेंट्स में लोगो को मास्क पहनने व सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन करने के लिए प्रेरित भी किया जा रहा है। बिना मास्क के अपार्टमेंट्स के परिसर में किसी को प्रवेश करने की अनुमति नही दी जा रही है।

नाराज दिखे जिलाधिकारी 

डीएम ने बताया कि कोविड टेस्टिंग लैब के द्वारा मरीज की टेस्ट रिपोर्ट आ जाने के बाद भी रिपोर्ट को पोर्टल पर देर से अपलोड किया जा रहा है। जिसके लिए जिलाधिकारी ने नाराजगी व्यक्त की और निर्देश दिया कि सभी टेस्टिंग लैब मरीज की रिपोर्ट आते ही उसको तत्काल पोर्टल पर अपलोड करना सुनिश्चित करें।

कानपुर HBTI के कुलपति बनाए गए डॉ. शमशेर सिंह, 3 साल के लिए हुए नियुक्त

Previous article

कोरोना का कहर : यूपी के इस जिले में शव जलाने के लिए लगी वेटिंग, जानिए क्‍या है पूरा मामला

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured