September 29, 2021 3:24 am
featured यूपी

भाजपा ने निषाद समाज के साथ वादा खिलाफी की : लौटन राम निषाद

निषाद समाज के साथ वादाखिलाफी

लखनऊ। विकासशील  इंसान पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष चौधरी लौटनराम निषाद ने भाजपा पर वादाखिलाफी का आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा ने निषाद समाज को आरक्षण का लॉलीपॉप दिखाकर वोट तो लिया पर सरकार बनाने के बाद वादा पूरा नहीं किया। उन्होंने कहा कि भाजपा के तत्कालीन राष्ट्रीय अध्यक्ष नितिन गडकरी व स्वर्गीया सुषमा स्वराज जी ने 5 अक्टूबर 2012 को मछुआरा दृष्टिपत्र जारी करते हुए 2014 में सरकार बनने पर आरक्षण की विसंगती दूर कराने का संकल्प लिया था।

लौटनराम निषाद ने कहा कि कहाँ गया भाजपा का मछुआरा दृष्टिपत्र व भाजपा का दृष्टिपत्र का संकल्प। उन्होंने सर्वदलीय निषाद कश्यप यूनियन के बैनरतले कुंवर सिंह निषाद के नेतृत्व में शुरू आरक्षण अधिकार पदयात्रा को पूर्ण रूप से समर्थन का विश्वास दिलाया है।
निषाद समाज के साथ वादाखिलाफी हुई तो सरकार गिराई जायेगी

वादाखिलाफी हुई तो मोदी योगी की सरकार गिरा दी जायेगी
यात्रा को संबोधित करते हुए यात्रा संयोजक कुँवर सिंह निषाद ने कहा कि भाजपा ने निषाद कश्यप रैकवार समाज को आरक्षण देने का वादा किया था लेकिन अब भाजपा अपने वादे से मुकर रही है यदि वादाखिलाफी हुई तो मोदी योगी की सरकार गिरा दी जायेगी। निषाद कश्यप समाज को अनुसूचित जाति में शामिल करने का वादा भाजपा के चुनाव घोषणा पत्र का अंग रहा है आवाज दबाई गई तो दिल्ली और लखनऊ दोनों को ही मोदी और योगी के लिये सपना बन जायेगा, साथ ही कुँवर निषाद ने कहा कि जब प्रधानमंत्री मोदी अपनी मोड़ घांची जाति को आरक्षण दे सकते हैं तो उत्तर प्रदेश के निषादों से क्या दुश्मनी है।

सड़क पर करेंगे आंदोलन 
विकासशील इंसान पार्टी के युवा राष्ट्रीय अध्यक्ष संतोष साहनी ने कहा कि यदि हमारी माँगों को नजरअंदाज किया को भाजपा सरकार के खिलाफ सड़क पर लगातर आंदोलन करेंगे।
पदयात्रा में मुख्यरूप से इं. मयंक निषाद, आलोक सिंह निषाद, रामजी सिंह निषाद, सोती लाल निषाद, दिवाकर निषाद, हरीश चंद निषाद, विश्वनाथ बिंद, राजेश निषाद बिंद, अजय कुमार कश्यप, पप्पू निषाद, संतोष सहनीलव कुमार निषाद, सानू निषाद, सुजीत कुमार प्रमुख रूप से शामिल रहे।

Related posts

सुप्रीम कोर्ट में लिस्ट नहीं हो पाई चिदम्बरम की याचिका, सुनवाई संभव नहीं

Trinath Mishra

CVC को सीबीआई विवाद की जांच में आलोक वर्मा के खिलाफ नहीं मिला कोई सबूत!

mahesh yadav

जाधव का केस लड़ने के लिए पाकिस्तान जाने को तैयार है उज्जवल निकम

shipra saxena