featured यूपी

नोएडा के पूर्व डीएम बीएन सिंह निर्दोष साबित, कार्रवाई हुई खत्‍म, जानिए पूरा मामला

नोएडा के पूर्व डीएम बीएन सिंह निर्दोष साबित, कार्रवाई हुई खत्‍म, जानिए पूरा मामला

नोएडा: गौतमबुद्ध नगर (नोएडा) के पूर्व जिलाधिकारी ब्रजेश नारायण सिंह को राज्‍यपाल की ओर से क्लीन चिट दे दी गई है। कोरोना संक्रमण की रोकथाम में लापरवाही बरतने के आरोप लगने के बाद बीते साल उनका ट्रांसफर राजस्‍व बोर्ड में कर दिया गया था।

बीते साल बीएन सिंह पर यह कार्रवाई मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ के दौरे के बाद की गई थी। एक साल से भी ज्यादा समय तक चली जांच के बाद अन्‍तत: उन्हें क्लीन चिट मिल गई है। राज्‍यपाल आनंदीबेन पटेल ने उन पर लगाए गए सभी आरोप खारिज कर दिए हैं।

कोरोना रोकथाम में लापरवाही का लगा था आरोप

आपको बता दें कि मार्च, 2020 में सीएम योगी नोएडा के दौरे पर गए हुए थे। इस दौरे के बाद मुख्‍यमंत्री ने आइएएस अधिकारी बीएन सिंह को कोरोना रोकथाम में लापरवाही बरतने और ढिलाई करने का दोषी माना। इसके बाद वर्ष 2009 बैच के आइएएस पर कार्रवाई करते हुए नोएडा जिले के डीएम पद से हटा दिया गया। उनका ट्रांसफर 30 मार्च को रेवेन्यू बोर्ड में कर दिया गया।

साथ ही आइएएस अधिकारी के विरुद्ध अनुशासनिक कार्रवाई के लिए जांच भी शुरू की गई। चिकित्सा स्वास्थ्य और चिकित्सा शिक्षा के प्रमुख सचिव के नेतृत्‍व में साल भर से ज्‍यादा वक्‍त तक चली जांच में बीएन सिंह को दोषी नहीं पाया गया है। जांच में सभी आरोपों को गलत पाया गया, जिसके बाद इनके खिलाफ चल रही अनुशासनिक कार्रवाई को भी खत्म कर दिया गया है।

noida नोएडा के पूर्व डीएम बीएन सिंह निर्दोष साबित, कार्रवाई हुई खत्‍म, जानिए पूरा मामला

 

ट्वीट करते हुए जाहिर की खुशी

वहीं, अनुशासनिक कार्रवाई समाप्‍त होने पर पूर्व डीएम बीएन सिंह ने ट्वीट करते हुए खुशी जाहिर की और सभी का धन्‍यवाद किया।

Related posts

जानिए: अटल बिहारी वाजपेयी ने क्यों संबोधन में इंदिरा गांधी को ‘दुर्गा’ कहा था

Rani Naqvi

विपक्ष के मंसूबों पर पानी फेर सकता है भाजपा का ये मास्टर स्ट्रोक, जानिए पूरा प्लान

Shailendra Singh

कौन थीं कोरोना संत, 1800 साल पहले ‘कोरोना संत’ के साथ जो दुनिया ने किया था, आज वो ही ‘कोरोना’ दुनिया के साथ कर रहा है..

Mamta Gautam