धर्म

आज का पंचांग : जानें किस व्रत को करने होगी आपकी सभी मनोकामना पूर्ण

Aaj ka Panchang1 2021 आज का पंचांग : जानें किस व्रत को करने होगी आपकी सभी मनोकामना पूर्ण

4 सितंबर 2021 दिन शनिवार तिथि भाद्रपद मास की कृष्ण पक्ष की द्वादशी की  है। आज के दिन पुष्य नक्षत्र रहेगा। कर्क राशि में चंद्रमा का गोचर रहेगा और वरियान योग का निर्माण हो रहा है। दिन में कई शुभ संयोग भी बन रहे हैं।

अजा एकादशी के व्रत के बाद करें पारण

3 सितंबर को अजा एकादशी व्रत रखने के व्रती 4 सितंबर को अजा एकादशी का पारण करें। अजा एकादशी व्रत का पारण शनिवार को सुबह 5:30 बजे से सुबह 8:30 तक किया जाएगा।

भक्तजन करें शनि प्रदोष व्रत 

आज यानी 4 सितंबर को पंचांग के अनुसार त्रयोदशी तिथि है। त्रयोदशी की तिथि को प्रदोष व्रत किया जाता है। प्रदोष व्रत भगवान शिव को समर्पित है इस तिथि को भगवान शिव की पूजा आराधना की जाती है और इस बार त्रयोदशी की तिथि शनिवार के दिन है, इसलिए इसे शनि प्रदोष भी कहा जाता है। इस दिन प्रदोष काल शाम 06 बजकर 23 मिनट से रात्रि 08 बजकर 44 मिनट तक रहेगा।

आज का पंचांग

दिवस शनिवार

माह भाद्रपद, कृष्ण पक्ष

तिथि द्वादशी 08:25 am तक फिर त्रयोदशी 

नक्षत्र पुष्य 05:55 am तक फिर आश्लेषा

सूर्य राशि सिंह

चन्द्र राशि कर्क

करण तैतिल 08:25 am तक फिर गर

योग वरीयां 09:44 am तक फिर परिघ

सूर्य और चंद्रमा का समय

सूर्योदय-6:14 AM 

सूर्यास्त-6:37 PM 

चन्द्रोदय-3:16 AM 

चन्द्रास्त- 5:08 PM 

सूर्य -सिंह राशि

शुभ काल

अभिजीत मुहूर्त – 12:01 शाम – 12:50 शाम

अमृत काल – 02:07 शाम – 03:50 शाम

ब्रह्म मुहूर्त – 04:37 सुबह – 05:25 सुबह

अशुभ काल

 राहु काल-9:19 सुबह से 10:52 शाम  तक कालवेला 

अर्द्धयाम-13:12 से 14:02 तक

 दुष्टमुहूर्त-05:39 सुबह से 06:29 सुबह तक, 06:29 सुबह से 07:20AM तक 

कुलिक- 6:13 सुबह  से 7:46 सुबह तक 

भद्रा-नहीं

 यमगण्ड- 13:31 से 15:05 तक

 गुलिक काल-05:39 सुबह से 07:13 सुबह तक 

गंडमूल -05:45 शाम  से 05:40 सुबह , 05सितंबर

 

Related posts

खत्म हुआ चंद्र ग्रहण आज करें ये काम तो मिलेगी सफलता

piyush shukla

शुरू हुई जन्माष्टमी की तैयारियां, दुल्हन की तरह सजाया जा रहा बांके बिहारी का मंदिर

Rani Naqvi

जानिए सुंदरकांड पाठ के अद्भुत लाभ

Saurabh