धर्म

16 अक्टूबर का पंचांग : पापांकुशा एकादशी का व्रत आज, जाने आज का राहुकाल और शुभ मुहूर्त

panchang 9 6391282 835x547 m 16 अक्टूबर का पंचांग : पापांकुशा एकादशी का व्रत आज, जाने आज का राहुकाल और शुभ मुहूर्त

वैदिक पंचांग के मुताबिक, आज 16 अक्टूबर 2021 दिन शनिवार अश्विन मास शुक्ल पक्ष की एकादशी तिथि है। जिसे पापांकुशा एकादशी के रूप में माना जाता है। इस तिथि को भगवान विष्णु की पूजा की जाती है। भगवान विष्णु की पूजा आराधना करने से जीवन में सुख समृद्धि बनी रहती है। साथ ही आज शनिवार का दिन है और शनिवार का दिन शनि देव को समर्पित होता है। इसलिए शनिवार के दिन शनि देव की पूजा जरूर करनी चाहिए। शनिदेव की पूजा करनी चाहिए शनिदेव शांत होते हैं।

आज का  पंचांग 

  1. विक्रम संवत – 2078, आनन्द
  2. शक सम्वत – 1943, प्लव
  3. पूर्णिमांत – आश्विन
  4. अमांत – आश्विन
  5. वार – शनिवार
  6. त्यौहार और व्रतपापांकुशा एकादशी, भारत मिलाप

तिथि

  • शुक्ल पक्ष एकादशी  – Oct 15 06:02 शाम  – Oct 16 05:37 शाम 
  • शुक्ल पक्ष द्वादशी  – Oct 16 05:37 शाम – Oct 17 05:39 शाम 

नक्षत्र

  • धनिष्ठा – Oct 15 09:16 सुबह  – Oct 16 09:22 सुबह 
  • शतभिषा – Oct 16 09:22 सुबह  – Oct 17 09:53 सुबह 

करण

  • विष्टि – Oct 16 05:47 सुबह  – Oct 16 05:37 शाम 
  • बव – Oct 16 05:38 शाम  – Oct 17 05:35 सुबह 
  • बालव – Oct 17 05:35 शाम  – Oct 17 05:39 शाम 

योग

  • गण्ड – Oct 16 12:03 सुबह  – Oct 16 10:41 शाम 
  • वृद्धि – Oct 16 10:41 शाम  – Oct 17 09:39 शाम 

सूर्य और चंद्रमा का समय

  • सूर्योदय – 6:28 सुबह 
  • सूर्यास्त – 5:56 शाम 
  • चन्द्रोदय – Oct 16 3:45 शाम 
  • चन्द्रास्त – Oct 17 3:18 सुबह 

अशुभ काल

  • राहू – 9:20 सुबह  – 10:46 सुबह 
  • यम गण्ड – 1:38 शाम  – 3:04 शाम 
  • कुलिक – 6:27 सुबह  – 7:53 सुबह 
  • दुर्मुहूर्त – 07:59 सुबह  – 08:45 सुबह 
  • वर्ज्यम् – 04:43 शाम – 06:21 शाम 

शुभ काल

  • अभिजीत मुहूर्त – 11:49 सुबह  – 12:35 शाम 
  • अमृत काल – 02:31 सुबह  – 04:09 सुबह 
  • ब्रह्म मुहूर्त – 04:51 सुबह  – 05:39 सुबह 

Related posts

मां का पांचवा स्वरुपः मां स्कन्दमाता

Rahul srivastava

2020 में पढ़ने वाले ये 6 ग्रहण दुनिया को तबाह कर देंगे, जानिए आपके ऊपर इसका क्या असर पड़ेगा ?

Mamta Gautam

बकरीद पर बकरे की ऑन लाइन कैसे करें खरीददारी, जानिए सबसे आसान तरीका..

Mamta Gautam