featured धर्म

23 मार्च 2022 का राशिफल: बुधवार का दिन आपके लिए खास, जानें आज किन राशियों की चमकेगी किस्मत

aaj-ka-rashifal-

ज्योतिष शास्त्र में राशिफल का काफी महत्व माना जाता है। बुधवार को चैत्र मास कृष्ण पक्ष की षष्ठी तिथि रहेगी। बुधवार का दिन भगवान गणेश की पूजा-उपासना के लिए समर्पित होता है। मान्यता कि भगवान गणेश की पूजा करने बुद्धि, सफलता और लक्ष्मी की प्राप्ति होती है। तो आइए जानते हैं आज का राशिफल

ये भी  पढ़ें :-

23 मार्च 2022 का पंचांग: बुधवार, जानें आज का शुभ मुहूर्त और राहुकाल

मेष
मन में उतार-चढ़ाव हो सकते हैं। सन्तान के स्वास्थ्‍य का ध्यान रखें। खर्चों में वृद्धि होगी। रहन-सहन अव्यवस्थित रहेगा। मित्रों का सहयोग मिलेगा। कारोबार में कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है। लाभ में कमी रहेगी। सुस्वादु खानपान में रुचि हो सकती है। क्रोध एवं आवेश के अतिरेक से बचें।

वृष
मन प्रसन्न रहेगा। आत्मविश्वास भरपूर रहेगा। नौकरी में कार्यक्षेत्र में परिवर्तन हो सकता है। परिश्रम अधिक रहेगा। वाहन सुख में वृद्धि होगी। धार्मिक संगीत के प्रति रुझान रहेगा। नौकरी में परिवर्तन के योग बन रहे हैं। उच्च पद की प्राप्ति हो सकती है। मानसिक तनाव हो सकता है।

मिथुन
आत्मविश्वास से लबरेज रहेंगे। बातचीत में संयत भी रहें। नौकरी के लिए साक्षात्कारादि कार्यों में सफलता मिलेगी। शासन-सत्ता का सहयोग मिलेगा। घर-परिवार में धार्मिक कार्य हो सकते हैं। पारिवारिक जीवन सुखमय रहेगा। मन अशान्त रहेगा। तरक्‍की के योग हैं। लंबी यात्रा के योग हैं।

कर्क
आशा-निराशा के भाव मन में हो सकते हैं। शैक्षिक कार्यों पर ध्यान दें। सन्तान की ओर से कोई सुखद समाचार मिल सकता है। स्वास्थ्‍य के प्रति सचेत रहें। सुस्वाद खानपान में रुचि रहेगी। नौकरी में अफसरों से मतभेद हो सकते हैं। लेखनादि-बौद्धिक कार्यों में व्यस्तता बढ़ सकती है।

सिंह
मन परेशान रहेगा। आत्मसंयत रहें। परिवार के स्वास्थ्‍य एवं सुख-सुविधाओं का ध्यान रखें। कारोबार में सुधार होगा। किसी मित्र का सहयोग मिलेगा। क्षणे रुष्टा-क्षणे तुष्टा की मानसिकता हो सकती है। वाणी में सौम्यता रहेगी। परिवार के साथ यात्रा देशाटन के लिए जा सकते हैं। स्वभाव में चिड़चिड़ापन हो सकता है।

कन्या
आत्मसंयत रहें। मन में निराशा एवं असन्तोष रहेगा। किसी मित्र के सहयोग से नौकरी में परिवर्तन के योग बन रहे हैं। उच्च पद की प्राप्ति‍ हो सकती है। जीवनसाथी का सहयोग मिलेगा। कारोबार का विस्तार होगा। भाई-बहनों का साथ भी मिल सकता है। वाणी में कठोरता का प्रभाव रहेगा।

तुला
आत्मविश्वास भरपूर रहेगा। वाणी में मधुरता रहेगी। धर्म के प्रति श्रद्धाभाव रहेगा। पिता से धन प्राप्त हो सकता है। स्वास्थ्‍य के प्रति सचेत रहें। पठन-पाठन में रुचि रहेगी। जीवनसाथी को स्वास्थ्‍य विकार हो सकते हैं। मित्रों से सहयोग से आय वृद्धि के स्रोत विकसित हो सकते हैं।

वृश्चिक
मानसिक शान्ति‍ रहेगी। किसी पुराने मित्र से पुनःसम्पर्क हो सकता है। नौकरी में अफसरों का सहयोग मिलेगा। तरक्की के मार्ग प्रशस्त होंगे। सेहत का ध्यान रखें। बातचीत में सन्तुलन बनाए रखें। कुटुम्ब के किसी बुजुर्ग से धन प्राप्ति के योग बन रहे हैं। माता-पिता का सानिध्य मिल सकता है।

धनु
मानसिक शान्ति‍ रहेगी। फिर भी आत्मसंयत रहें। माता-पिता का सानिध्य मिलेगा। कारोबार में मेहनत अधिक रहेगी। लाभ के अवसर मिलेंगे। वाहन सुख में वृद्धि होगी। खर्चों की अधिकता से परेशान रहेंगे। भाइयों के सहयोग से कारोबार का विस्तार हो सकता है। घर-परिवार में धार्मिक कार्य हो सकते हैं।

मकर
मानसिक शान्ति‍ रहेगी। फिर भी आत्मसंयत रहें। माता-पिता का सानिध्य मिलेगा। कारोबार में मेहनत अधिक रहेगी। लाभ के अवसर मिलेंगे। वाहन सुख में वृद्धि होगी। खर्चों की अधिकता से परेशान रहेंगे। भाइयों के सहयोग से कारोबार का विस्तार हो सकता है। घर-परिवार में धार्मिक कार्य हो सकते हैं।

कुंभ
आत्मविश्वास में कमी रहेगी। पारिवारिक जीवन कष्टमय रहेगा। कारोबार में कुछ परिवर्तन की सम्भावना बन रही हैं। आय में वृद्धि होगी। यात्रा खर्च बढ़ेंगे। परिश्रम अधिक रहेगा। लाभ के अवसर मिलेंगे। वाणी का प्रभाव बढ़ेगा। नौकरी में स्थान परिवर्तन की संभावना बन रही हैं। सेहत का ध्यान रखें।

मीन
आत्मसंयत रहें। मानसिक शान्ति‍ के लिए प्रयत्न करें। घर-परिवार में धार्मिक कार्य होंगे। दिनचर्या अव्यवस्थित रहेगी। मित्रों का सहयोग मिलेगा। अपनी भावनाओं का वश में रखें। सन्तान की ओर से सुखद समाचार मिल सकते हैं। नौकरी में तरक्की के मार्ग प्रशस्त होंगे। कुटुम्ब परिवार में धार्मिक कार्य होंगे।

Related posts

‘सोशल मीडिया हब’ बनाने के फैसले पर पीछे हटी सरकार, कहा निगरानी नही की जाएगी

mahesh yadav

Corona virus Live Update: दिल्ली में लगा 6 दिनों का लॉकडाउन

Saurabh

पीएम मोदी ने आषाढ़ पूर्णिमा के मौके पर देश के नाम दिया संबोधन, जाने क्या कहा

Rani Naqvi