October 17, 2021 11:14 am
Breaking News यूपी

पेंशन बचाओ आंदोलन को अटेवा देगा धार, लिए कई अहम फैसले

1 पेंशन बचाओ आंदोलन को अटेवा देगा धार, लिए कई अहम फैसले

लखनऊ। पुरानी पेंशन को बचाने की मांग को लेकर लगातार आंदोलन कर रहे अटेवा ने एक बार फिर कमर कस ली है। कोरोना की चुनौतियों के बीच पेंशन बचाओ आंदोलन को और धार देने की रणनीति बनाई गई है। इसको लेकर अटेवा पदाधिकारियों ने कई फैसले भी लिए हैं।

अटेवा -पेंशन बचाओ मंच, उत्तर प्रदेश द्वारा प्रदेश कार्यकारिणी की ऑनलाइन बैठक प्रदेश अध्यक्ष विजय कुमार बन्धु की अध्यक्षता एवं प्रदेश महामंत्री डॉ नीरज पति त्रिपाठी के संचालन में सम्पन्न हुई। कार्यकारिणी की बैठक में कई महत्वपूर्ण फैसले किए गए और आगे के पेंशन आंदोलन को धारदार बनाने के लिए संगठन की मजबूती और जनसंपर्क पर जोर दिया गया।

पेंशन जागरूकता एवं जनसंपर्क अभियान

पेंशन क्या है? क्यों जरूरी है शिक्षकों कर्मचारियों के लिए? वर्तमान में सेवानिवृत्त के उदाहरण लोगों के सामने रखना। पुरानी पेंशन जागरूकता के लिए अभियान चलाया जाएगा। साथ ही नए साथियों को भी इससे जोड़ा जाएगा।

WhatsApp Image 2021 07 25 at 2.00.27 PM पेंशन बचाओ आंदोलन को अटेवा देगा धार, लिए कई अहम फैसले

अटेवा के संघर्ष और उपलब्धियों को बताना

पेंशन बहाली जैसे मृतप्राय हो चुके मुद्दे को जिंदा करना तथा लोगों तक पेंशन मिशन को ले जाना, अटेवा के  संघर्ष की चर्चा व उपलब्धियों की जानकारियां लोगों तक पहुंचाने का निर्णय लिया गया है। जैसे संघर्ष के वजह से डेथ ग्रेच्युटी, परिवारिक पेंशन का लाभ, मृतक आश्रित के तहत नौकारियों का लाभ व अन्य लाभों से अवगत कराना। कोरोना के समय शिक्षकों कर्मचारियों के लिए अटेवा द्वारा मुखरता से संघर्ष करना व उसकी बदौलत आज हजारों परिवारों को राहत दिलवाने की जानकारी लोगों को दी जाएगी।

WhatsApp Image 2021 07 25 at 2.00.03 PM पेंशन बचाओ आंदोलन को अटेवा देगा धार, लिए कई अहम फैसले

जनप्रतिनिधियों को ज्ञापन देना और उनसे समर्थन पत्र लिखवाएंगे

पुरानी पेंशन की बहाली के लिए जनप्रतिनिधियों को ज्ञापन देंगे। साथ ही समर्थन में पत्र लिखवाया जाएगा। आगामी चुनाव में उनकी पार्टियों की घोषणा पत्र में शामिल करवाने के लिए सहमत कराया जाएगा।

ये निर्णय भी लिया जाएगा

– अटेवा एक अगस्त से 30 सितंबर तक सदस्यता अभियान चलाएगा। 8 व 9 अगस्त को एनपीएस निजीकरण भारत छोड़ो के तहत अभियान को बढ़ाएंगे।

– प्रदेश के सभी दलों के राष्ट्रीय/प्रदेश अध्यक्ष को 8-9 अगस्त को सभी साथियों द्वारा ई-मेल करके पुरानी पेंशन को उनके दल के एजेण्डा में शामिल करवाने का प्रयास करेंगे।

– ब्लॉक व जिला कमेटी का हर माह बैठक करना एवं उसकी सूचना प्रदेश कमेटी को अनिवार्य रूप से देना।

– 15 अगस्त तक मंडल/जिला व ब्लाक कार्यकारिणी का गठन/ पुनर्गठन कार्य के प्रदेश कमेटी को सूचित करना।

– मंडलवार संगठन की समीक्षा बैठक किया जायेगा।

– अनुशासन समिति पर सहमति बनी।

WhatsApp Image 2021 07 25 at 2.00.26 PM पेंशन बचाओ आंदोलन को अटेवा देगा धार, लिए कई अहम फैसले

ये बैठक में रहे शामिल

पेंशन आंदोलन एवं संगठन हित में और कई विषयों पर सहमति बनी। सभी ने एक राय होकर चुनाव को देखते हुए पुरानी पेंशन के मुद्दे को मजबूती से आगे बढ़ाने की आवश्यकता पर बल दिया। स्थिति सामान्य होने पर एक बड़ा आन्दोलन करने पर विचार विमर्श किया गया।

वर्चुअल बैठक में मुख्य रूप से प्रदेश टीम के जुझारू प्रदेश उपाध्यक्षगण चन्द्रहास सिंह, डॉ0 आशाराम यादव, प्रदेश कोषाध्यक्ष विक्रमादित्य मौर्य, प्रदेशीय मन्त्रीगण विजय प्रताप यादव, संजय उपाध्याय, डॉ रमेश चंद्र त्रिपाठी, मीडिया प्रभारी डॉ राजेश कुमार, सोशल मीडिया प्रभारी कुलदीप कुमार सैनी ”कुली’, आई.टी सेल प्रभारी अभिनव सिंह राजपूत, संगठन मंत्री रजत प्रकाश, संदीप वर्मा, डॉ भूरी सिंह,राजेश जायसवाल, अशोक कनौजिया, सांस्कृतिक प्रकोष्ठ प्रभारी धर्मेंद्र गोयन, महिला मोर्चा प्रभारी श्रीमती रंजना सिंह , सलाहकार डॉ आनंदवीर सिंह, ओम प्रकाश कनौजिया, राकेश रमन, संयुक्त मन्त्रीगण निर्भय सिंह गुर्जर, सादिक अब्बास, अखिलेश यादव, वीरेंद्र पटेल, राधा प्यारी रावत  सदस्य कार्यकारिणी डॉ पंकज गुप्ता, दयाशंकर, डॉ नीलम तिवारी सहित सभी जुझारू साथी ढाई घण्टे चली मैराथन बैठक में जुड़े रहे।

Related posts

पाकिस्तान ने भारत के दिए सबूतों को नकार दिया, बोला पाक में नहीं है आतंकी शिविर

bharatkhabar

कोर्ट का आदेश- सिनेमाघरों में सामान्य दर पर मिलेगी खाद्य सामग्री, जल्दी नीति तैयार करेगी सरकार

rituraj

इन राज्यों को पीछे छोड़ यूपी बना नंबर वन, पढ़िए पूरी खबर

Shailendra Singh