रामनवमी के उल्‍लास पर कोरोना का ग्रहण, रामलला के दरबार में भक्तों के प्रवेश पर रोक 

अयोध्‍या: उत्‍तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए धीरे-धीरे सभी कार्यालय, प्रतिष्‍ठान और संस्‍थान बंद किए जा रहे हैं। इसी बीच श्रीराम जन्‍मभूमि ट्रस्‍ट ने भी बड़ा फैसला लिया है।     

कोरोना के बढ़ते संक्रमण के मद्देनजर श्रीराम जन्‍मभूमि ट्रस्ट ने सोमवार को रामलला के दरबार में भक्तों के प्रवेश पर रोक लगा दी है। यह फैसला ट्रस्‍ट ने जिलाधिकारी अनुज कुमार झा और वरिष्‍ठ पुलिस अधीक्षक शैलेश पांडेय से मुलाकात के बाद लिया है।

रामनवमी पर सूना रहेगा राम दरबार

गौरतलब है कि अयोध्‍या में भगवान श्रीराम के भव्य मंदिर का निर्माण शुरू होने की खुशी में इस बार रामजन्मोत्सव मनाने की तैयारी पूरी भव्यता के साथ थी। इस दौरान रामजन्‍मभूमि में लाखों भक्‍तों की भीड़ उमड़ने की संभावना थी, लेकिन कोरोना ने रामनवमी के इस हर्षोल्लास में ग्रहण लगा दिया।

सोमवार को जिलाधिकारी अनुज कुमार झा और एसएसपी शैलेश पांडेय ने रामजन्मभूमि जाकर ट्रस्टियों से भेंट की। इस मुलाकात के दौरान उन्‍होंने कोविड प्रोटोकाल के तहत दर्शन-पूजन की व्यवस्था सुनिश्चित करने को कहा। इसके बाद ट्रस्ट ने निर्णय लेते हुए रामजन्मभूमि में भक्तों के प्रवेश पर रोक लगा दी।

रामजन्मभूमि में भक्तों के प्रवेश पर रोक

अब स्थानीय व बाहर से आए श्रद्धालु रामलला के दर्शन नहीं कर पाएंगे। इसकी वजह से रामजन्मोत्सव में भी रामलला का दरबार सूना ही नजर आएगा। इस संबंध में ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने प्रेस वक्तव्य में जानकारी देते हुए बताया कि, रामजन्मभूमि में भक्तों के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है।

उन्‍होंने बताया कि, यह फैसला कोविड संक्रमण की प्रतिदिन बढ़ती गंभीरता और खतरा आदि की विषम परिस्थितियों को देखते हुए लिया गया है। अगर हम स्‍वस्‍थ और निरोग रहेंगें तो आनंद सदैव रहेगा। रामनवमी उत्‍सव घर में सदैव उत्‍साह के साथ मनाते रहेंगें और ऐसा करने से भगवान श्रीराम भी खुश होगें।

सादगी से मनाया जाएगा रामजन्‍मोत्‍सव

ट्रस्‍ट के महासचिव ने कहा कि, अगर हम सरकार के निर्देशों का पालन करते हैं तो खुद की भलाई है। हम पूजा-पाठ, व्रत और उपवास घर में रहकर भी कर सकते हैं। उन्‍होंने बताया कि, रामनवमी पर रामजन्मोत्सव के लाइव प्रसारण की योजना थी, लेकिन इस महामारी को देखते हुए फिलहाल रामजन्मोत्सव सादगी से मनाया जाएगा।

इलाहाबाद हाईकोर्ट 24 अप्रैल तक बंद, 26 अप्रैल तक इनकी छुट्टी के भी आदेश

Previous article

यूपी सरकार के प्रयासों का प्रधानमंत्री ने लिया जायजा, संक्रमण नियंत्रण पर हुई बात

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured