मथुरा: 14 फरवरी को वृंदावन धाम जाएंगे योगी आदित्यनाथ

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बजट में हमारा एक ही संकल्प है-सबका साथ, सबका विकास। उन्होंने कहा कि सरकार सबको साथ लेकर एक उत्तम प्रदेश का निर्माण करेगी। बिना किसी भेदभाव के सबका विकास किया जाएगा।

जानिए क्या-क्या कहा मुख्यमंत्री ने

-किसी भी राज्य के पहले पेपर लेस बजट के लिए मंत्री सुरेश खन्ना और उनकी टीम को बधाई देता हूं। आज से कैबिनेट भी पेपरलेस हो चुकी है। बजट से ठीक पहले हुआ यह काम, अब नहीं होगा कागज का इस्तेमाल। अब यूपी कैबिनेट हुई ई-कैबिनेट।

-बजट लोककल्याणकारी है , इसके लिए मैं वित्त विभाग की पूरी टीम को बधाई देता हूं । हर घर को नल , बिजली , हर गाँव को सड़क व डिजिटल बनाने व हर खेत को पानी व हर हाथ को काम देने के उद्देश्य से निहित है ।

-यह बजट प्रदेश के हर तबके के लिए है। हम सबको साथ लेकर चलेंगे, सबका विकास करेंगे। कोरोना जैसी महामारी से उबरने के बाद प्रदेश का यह बजट ऐतिहासिक है। बजट में आम आदमी के कल्याण की भावना निहित है।

-हर घर पानी , हर घर नल , हर घर को बिजली और हर गाँव को डिजिटल बनाने के संकल्प के साथ ही हर खेत को पानी देने का इस बजट में निहित  है

हर बजट में दी गई समग्र विकास को प्राथमिकता

मुख्यमंत्री ने कहा कि 2017-18 का बजट किसानों को समर्पित था। 2018-19 का बजट औद्योगिक विकास के नाम रहा। 2019-20 का बजट मात़ृ शक्ति और 2020-21 का बजट युवाओं और आधारभूत ढ़ांचे को मजबूत करने के नाम रहा। इस बार का बजट पूरे प्रदेश के विकास को समर्पित है।

-हर गाँव को सड़क , हर गांव को डिजिटल बनाये जाने की प्रक्रिया इस बजट से शुरू हुई है ।

-महिलाओं और बेटियों के लिए बजट में तमाम योजनाएं शुरू की गई हैं।

-मुख्यमंत्री सक्षम सुपोषण योजना भी बजट में शुरू की गई है ।

-अभ्युदय कोचिंग योजना के अंतर्गत टेबलेट भी देने का काम सरकार करेगी । इसका प्रावधान बजट में कर दिया गया है ।

-प्रदेश के अंदर खेल कूद के प्रोत्साहन के लिए भी बजट की व्यवस्था की गई है ।

-जिस मंडल पर राज्य विश्वविद्यालय नही है वहाँ राज्य विश्वविद्यालय का निर्माण किया जाएगा। प्राथमिक और माध्यमिक के साथ उच्च शिक्षा के भी बेहतर इंतजाम होंगे।

-हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए भी बजट में बड़ी व्यवस्था की गई है। हम नए अस्पताल और मेडिकल कॉलेज बनाएंगे। प्रदेश के हर शख्स को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं देना हमारा मकसद है।

-प्रदेश सरकार असंगठित क्षेत्र के लोगो का रजिस्ट्रेशन कराएगी , 5 लाख का स्वास्थ्य कवर भी सरकार देगी ।

-प्रदेश में व्यापारी का भी रेजिस्ट्रेशन होगा , जिसमे व्यापारी के साथ दुर्घटना होने की दशा में 10 लाख का बीमा कवर मिल सकेगा।

-Nib पुणे के तर्ज पर , प्रदेश में भी एक संस्थान का लखनऊ में बनेगा , बजट में किया गया प्रवधान। आसानी से हो सकेंगी तमाम जटिल जाचें।

-प्रदेश में दूरदराज क्षेत्रों में टेलीमेडिसिन की व्यवस्था की गई है। गांव और दूर दराज के इलाकों में आसानी से पहुंच सकेगी दवा।

-हम कोरोना से पूरे दमखम से लड़े। बीमारी पर 75% और मौत पर 95% रोक पर हमने सफलता पाई-सीएम योगी कोरोना प्रबंधन का बेहतरीन उदाहरण हमने प्रस्तुत किया।

-10 स्मार्ट सिटी केंद्र ने दिए, 7 शहर यूपी सरकार विकसित करेगी, ग्रामीण और शहरी दोनों की आवासीय योजना के घर देंगे।

-इज ऑफ डूइंग में यूपी की रैंकिंग में आज यूपी दूसरे स्थान पर है। डिसप्ले यूनिट का बड़ा निवेश यूपी में आ रहा है। ईज ऑफ डूइंग बुसिनेस में आज उत्तर प्रदेश दूसरे नंबर पर है ।प्रदेश में लगातार निवेश आ रहा है । प्रदेश में डेटा सेंटर पर भी काम हो रहा है ।

-प्रदेश का पहला फोरेंसिक सेंटर लखनऊ में बनाने जा रहे है । प्रदेश का पहला फॉरेंसिक इंस्टीट्यूट हम लखनऊ में बना रहे-सीएम योगी प्रदेश की सभी 18 पुलिस रेंज ओर फ़ारेंसिक लैब होगी-सीएम योगी

-सूक्ष्म लघु मध्यम उद्यम के तहत बंद पड़ी मिलों को पीपीपी मोड़ पर फिर चलाएंगे। MSME में 1000 दिनों तक किसी यूनिट को लाइसेंस की आवश्यकता नही होगी। इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट के लिए हम बड़ा काम कर रहे। पूर्वांचल एक्सप्रेस वे, गोरखपुर लिंक और गंगा एक्सप्रेस वे के निर्माण के लिए हमने बड़ा बजट दिया। सभी जिला मुख्यालय को फोरलेन से जोड़ेंगे।

-हर गांव डिजिटल तकनीकी से जुड़ेगा। हर गांव में कॉमन सर्विस सेंटर होगा। हर महिला को गांव में ही रोजगार मिलेगा। हर गांव में सामुदायिक शौचालय होगा।

-एयर कनेक्टिविटी को हम युद्धस्तर पर बढ़ा रहे। अयोध्या एयरपोर्ट को हम इंटरनेशनल स्तर पर विकसित करेंगे। जेवर एयरपोर्ट एशिया का सबसे बड़ा एयरपोर्ट होगा-सीएम। यूपी की तरह दूसरे प्रदेशों में काम नहीं हुआ है।

-पुलिस की अवस्थापना सेवाओं को बढ़ाएंगे। हर थाना, चौकी में आवासीय सुविधा होगी। हर शहीद स्थल के पुनुरुधार को बजट दिया।

-24 करोड़ श्रद्धालु प्रयागराज में आए। अयोध्या में पर्यटन को हम मॉडल बना रहे। मुख्यमंत्री पर्यटन योजना के तहत सभी धार्मिक स्थलों का विकास होगा। देव दीपावली का आयोजन विश्व ने देखा है। लखनऊ में जनजाति संग्रहालय बनाने का बजट दिया।

पुडुचेरी में गिरी कांग्रेस सरकार , सीएम नारायणसामी ने उपराज्यपाल को अपना इस्तीफा सौपा

Previous article

सपा का योगी सरकार पर हमला, बजट को बताया झूठ का पुलिंदा

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.