आर डी व्यापारियों की मांग, वीकेंड पर लॉकडाउन न करे सरकार

लखनऊ। राजधानी के व्यापारियों ने सरकार से मांग की है कि वीकेंड यानी कि सप्ताह के अन्त में होने वाले दो दिनों के लॉकडाउन को समाप्त कर साप्ताहिक बंदी को लागू किया जाये। जिससे व्यापार में कुछ तेजी आ सके।

बताया जा रहा है कि शनिवार और रविवार को  लॉकडाउन करने की बजाय पहले से निर्धारित साप्ताहिक बंदी को सख्ती से लागू किया जाये, इसके पीछे व्यापारियों का तर्क है कि पहले से मंदी की मार झेल रहा व्यापारी सप्ताह के अंत में दो दिनों का लाकडाउन जारी रहने से आर्थिक दिक्कतों का सामना कर रहा है, यदि सप्ताह के अंत में लॉक डाउन नहीं लगेगा तो लोगों की बाजार में आमद अधिक होगी। जिससे व्यवसाय में तेजी आयेगी।

आदर्श व्यापारी एसोसिएशन के अध्यक्ष राजेश सोनी ने कहा है कि हम लोग लम्बे समय से मांग कर रहे हैं कि सप्ताह के अंत में लगने वाले लॉकडाउन को सामाप्त कर दिया जाये,इसकी जगह पर पहले से निर्धारित बंदी को लागू कर दिया जाये। उन्होंने बताया कि ट्रांस गोमती बुधवार को बंद होता था,अमीनाबाद गुरूवार,नाका में रविवार को साप्ताहिक बंदी हुआ करती थी,जिसे लागू कर दिया जाये। उन्होंने कहा कि मौजूदा दौर में साप्ताहिक बंदी की व्यवस्था लागू करना बहुत जरुरी है,क्योंकि शनिवार व रविवार को अधिकतर लोग खरीदारी करने अपने घरों से निकलते हैं।

लखनऊ व्यापार मण्डल के कोषाध्यक्ष व भूतनाथ व्यापार मण्डल के अध्यक्ष देवेन्द्र गुप्ता ने कहा है कि दुकानों को शनिवार व रविवार को खोलने का आदेश सरकार को देना चाहिए,उसकी जगह पर जिस क्षेत्र में जो साप्ताहिक बंदी पहले से लागू थी,वहां पर उसी दिन बंद होना चाहिए। उन्होंने कहा कि अब जब बाजार को खोल दिया गया है,तो शनिवार व रविवार को हो रही बंदी को भी समाप्त कर देना चाहिए। उन्होंने कहा कि शनिवार व रविवार को लोग बजारों में खरीदारी करने पहुंचते हैं। शनिवार व रविवार को यदि बाजार खुलेगा तो व्यवसाय में कुछ तेजी आने की उम्मीद की जा सकती है।

उन्होंने कहा कि इससे एक बड़ा फायदा यह भी है कि जो भीड़ बाकी के चार दिनों में आती है, वह बंट जायेगी।

जानिए क्यों प्रदर्शन पर उतर आए रुहेलखंड विश्वविद्यालय के छात्र

Previous article

हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश ने मचाई तबाही, प्रलय थमने के बाद दिखा तबाही का मंजर

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured