September 25, 2021 2:34 pm
featured देश

दिल्ली में धीमी पड़ी कोरोना की रफ्तार, अस्पताल में खाली हुए ऑक्सीजन और ICU बेड

corona bedd दिल्ली में धीमी पड़ी कोरोना की रफ्तार, अस्पताल में खाली हुए ऑक्सीजन और ICU बेड

नई दिल्ली: कोरोना ने दूसरी लहर ने दिल्ली ही नहीं बल्कि पूरे देश को तबाह कर रखा है। लेकिन दिल्ली वासियों के लिए थोड़ी राहत की खबर है। दरअसल यहां पर पिछले कुछ दिनों से संक्रमण की रफ्तार कमजोर पड़ी है। जिसके बाद ऑक्सीजन की समस्या खत्म होने के साथ ही अब राजधानी में ऑक्सीजन बेड और ICU भी कमी नहीं है। दिल्ली के विभिन्न अस्पतालों में अब करीब 50 फीसदी सामान्य और ऑक्सीजन बैड खाली हैं। 15 फीसदी से ज्यादा आइसीयू बेड खाली हैं।

राहत की सांस लेती राजधानी

दिल्ली कोरोना ऐप के मुताबिक, राजधानी में कुल 6,763 आइसीयू बेड में से 1170 बेड खाली हैं। वहीं कुल ऑक्सीजन बेड 24,453 में से 11,119 बेड खाली हैं।सामान्य बेड की बात करें तो विभिन्न अस्पतालों 13,450 खाली हैं। दिल्ली में कई बड़े सरकारी अस्पतालों एम्स, लोकनायक, सफदरजंग, राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी अस्पताल, गुरु तेग बहादुर (जीटीबी) में भी आइसीयू और ऑक्सीजन बेड खाली हैं।

राजधानी में थमी कोरोना की रफ्तार

दिल्ली में लगातार दूसरे दिन 5000 हजार से कम केस सामने आए हैं। पिछले 24 घंटे में 4 हजार 482 नए संक्रमित मरीज मिले हैं। 4 अप्रैल के बाद राजधानी में ये सबसे कम आंकड़ा है। जब 4,033 मामले सामने आए थे। राजधानी में भी रोजाना टेस्ट पॉजिटिविटी दर में कमी देखी गई, जो 7 फीसदी से नीचे 6.89 प्रतिशत हो गई। हालांकि, 265 मौतें हुईं, जिससे मरने वालों की संख्या 22,111 हो गई। दिल्ली में 50 हजार से ज्यादा एक्टिव केस हैं।

दिल्ली में लॉकडाउन का दिखा असर

पिछले दो हफ्तों से दिल्ली, जो लॉकडाउन में है, वहां रोजाना पॉजिटिव मामलों और पॉजिटिविटी दर में भारी कमी देखी गई है। कोरोना महामारी की दूसरी लहर के चरम के दौरान 20 अप्रैल को दिल्ली के रोजाना पॉजिटिव मामले 28,395 थे, जबकि सबसे ज्यादा रोजाना पॉजिटिविटी दर 22 अप्रैल को 36 फीसदी थी।

Related posts

राजनाथ सिंह SCO बैठक में चीनी रक्षामंत्री से नहीं करेंगे मुलाकात

Samar Khan

किसान आंदोलन: दसवें दौर की बैठक जारी, जानें लंच से पहले बैठक में क्या हुई बातें

Aman Sharma

शादी के मंडप से प्रेमी से संग फरार हुई ये दुल्हन, पिता ने दर्ज कराया अपहरण का मुकदमा

Shailendra Singh