निगम के वार्ड 272 और भाजपा के पास आवेदन आए 8500

नई दिल्ली। 5 राज्यों में विधानसभा चुनाव खत्म होने के बाद अब सबकी निगाहें दिल्ली में होने वाली निगम चुनावों पर टिंकी हुई है। दिल्ली नगर निगम के चुनावों में वर्तमान निगम पार्षदों के बजाय नये चेहरों को बतौर उम्मीदवार उतारने की भाजपा नेतृत्व की घोषणा के बाद अब तक पार्टी के पास निगम के 272 वार्डों के लिए 8500 आवेदन आ चुके हैं।

भाजपा पिछले दो बार से उत्तरी, पूर्वी और दक्षिणी निगम में सत्तारूढ है। ऐसे में पार्टी नेतृत्व ने सत्ताविरोधी लहर के मद्देनजर गुजरात के प्रयोग को दोहराते हुए वर्तमान निगम पार्षदों को चुनावी समर में सीधे-सीधे नहीं उतारने का फैसला किया है। इतना ही नहीं पार्टी ने पार्षदों, मंडल और जिला अध्यक्षों के प्रभुत्व को खत्म करते हुए उम्मीदवारों से सीधे आवेदन मांगे हैं। निगम चुनाव के लिए नए चेहरों को आवेदन का मौका देने के लिए सीधे बॉक्स की प्रक्रिया शुरू की है। पहले जिला अध्यक्ष के माध्यम से ही उम्मीदवारों को ब्यौरा पार्टी अध्यक्ष तक पहुंचता था।

राज्यों के निकाय चुनावों में भाजपा की शानदार जीत के सिलसिले को दिल्ली के निगम चुनावों में भी जारी रखने के लिए भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह 19 मार्च को रामलीला मैदान में रैली करने जा रहे हैं। सूत्रों के अनुसार पार्टी से रैली के बाद एमसीडी चुनावों के लिए प्रत्याशियों की सूची जारी कर सकती है।

गौरतलब है कि दिल्ली में निगम चुनाव के लिए 27 मार्च से एमसीडी चुनाव के नामांकन शुरू होंगे। 22 अप्रैल को दिल्ली में मतदान होगा और 25 अप्रैल को नतीजों का ऐलान किया जाएगा।