January 29, 2022 7:42 pm
featured देश राज्य

बस में लड़की के सामने गंदी हरकत करने वाले आरोपी पर पुलिस ने रखा 25 हजार का इनाम

delhi man

नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस ने चलती बस में डीयू की छात्र के बगल में बैठकर गंदी हरकत करने वाले एक शख्स पर 25 हजार का इनाम रखा है। दिल्ली पुलिस ने इस संबंध में एक पोस्टर भी जारी किया है। जिसमें पुलिस का कहना है कि आरोपी की जानकारी देने वाले को 25 हजार का इनाम दिया जाएगा। साथ ही जानकारी देने वाले की पहचान गोपनीय रखी जाएगी। छात्रा ने आरोपी व्यक्ति को आश्लील हरकत करते हुए उसकी वीडियो बना ली थी। और अपने ट्विटर हैंडल से शेयर कर उसने बस के अंदर अपने साथ हुई गंदी हरकत के बारे में खुलासा किया था।

delhi man
delhi man

बता दें कि पीड़िता का आरोप है कि बीते 10 फरवरी को 6 घंटे इंतजार के बाद वसंत विहार थाने में आरोपी के खिलाफ केस दर्ज किया गया, लेकिन कोई गिरफ्तार नहीं हुआ है। तब से आरोपी भी फरार चल रहा है। दिल्ली पुलिस, पुलिस आयुक्त, मुख्यमंत्री, महिला आयोग आदि को ट्विटर पर टैग करते हुए पीड़िता ने ट्वीट भी किया, लेकिन महिला आयोग के अलावा किसी ने मदद नहीं की। पीड़िता दिल्ली यूनिवर्सिटी में तीसरे वर्ष की छात्रा है। इस घटना के समय वह कॉलेज से घर लौट रही थी। आरोपी आईआईटी गेट बस स्टैंड पर उतर गया था। छात्रा का आरोप है कि आरोपी ने उसके निजी अंग को भी छुआ था।

वहीं पीड़िता का आरोप है कि वह हर दिन की तरह बीते 7 फरवरी को वसंत गांव से कलस्टर बस रूट नंबर 774 में सवार हुई थी। छात्रा अगले गेट से सवार हुई और दूसरे नंबर की सीट पर बैठ गई। 45 साल का एक व्यक्ति उस सीट पर बगल में बैठ गया। चंद मिनट बाद वह उसके निजी अंग को छूने लगा। उसके सामने ही मस्टरबेट करने लगा। हैरानी की बात यह है कि छात्रा बस में आरोपी के ऐसा करने का विरोध करती रही और अन्य यात्रियों से मदद की गुहार लगाती रही, लेकिन कोई आगे नहीं आया। उसने चिल्लाकर अन्य यात्रियों से मदद की गुहार भी लगाई थी, लेकिन किसी यात्री ने सहायता नहीं की।

साथ ही बहादुर छात्रा ने आरोपी की अश्लील हरकत को अपने मोबाइल से रिकॉर्ड कर लिया। इतना ही नहीं उसने इस वीडियो को ट्विटर पर भी अपलोड कर दिया। इसके बाद उसने इस घटना की जानकारी अपने दोस्तों को दी। हैरानी की बात यह है कि इस वीडियो को दिल्ली के मुख्यमंत्री कार्यालय, दिल्ली पुलिस, पुलिस आयुक्त, महिला आयोग को ट्विटर पर टैग किया गया था, लेकिन महिला आयोग के अलावा किसी अन्य ने पीड़िता से तीन दिनों तक संपर्क नहीं किया। महिला आयोग के हस्तक्षेप के बाद वसंत विहार थाना में इस बाबत केस दर्ज हुआ है।

Related posts

राम मंदिर मामले में फैसला सुनाने वाले रिटायर्ड जज के घर पर बमबारी, CCTV से खुला राज

Shailendra Singh

बिहार में कोरोना वायरस की पहली जांच रिपोर्ट में 13 नए कोरोना मरीज, दूसरी जांच रिपोर्ट में फिर 11 नए मरीज मिले

Rani Naqvi

उत्तर कोरिया के मुद्दे पर चीन से बातचीत संभव

Srishti vishwakarma