शहीद औरंगजेब के घर पहुंची रक्षा मंत्री सीतारमण

श्रीनगर। बीते दिनों राइफलमैन औरंगजेब जो कि कश्मीर के शोपियन में पोस्टेड था, उसको अगवा कर आतंकियों ने मौत के घाट उतार दिया। औरंगजेब ईद की छुट्टी मनाने अपने घर जा रहा था, रास्ते में ही आतंकियो ने उसे अगवा कर लिया और मार दिया। उसके बाद औरंगजेब की एक वीडियो भी आई जिसमे उससे सवाल पूछा जा रहा था और वो बड़े ही बेबाकी से जवाब दे रहा था। पूरा देश उसको सलाम कर रहा है, हर कोइ उसके परिवारवालों के लिए दुआएं मांग रहा है। वैसे भी उसने देश के लिए जान दी है और ऐसी शख्सियत को तो सलाम करना चाहिए।

औरंगजेब के शहादत के बाद उसका परिवार शोक के सागर में डूबा हूआ है, उनकी मांग है कि उसके बेटे की शहादत बेकार नही जानी चाहिए। उनका ये भी कहना है कि उन्हें एक के बदले सौ सिर चाहिए। औरंगजेब के पिता ने देशप्रेम दिखाते हूए ये कहा है कि हर व्यक्ति को अपने बेटों को सेना में भेजना चाहिए, अगर सेना मे जवान नही रहेंगे तो आतंकियो को सफाया कौन करेगा।

सोमवार को आर्मी चीफ बिपिन रावत ने औरंगजेब के परिवार से मुलाकात की, वो लगभग 30 मिनट वहाँ रुके और औरंगजेब के परिवारवालों से बातचीत की।
आज बुधवार को देश की रक्षा मंत्री सीतारमण शहीद औरंगजेब के परिवार पहुँची हैं, वो उनके माता पिता को ढ़ाढ़स दे रही हैं और उन्हें ये विश्वास दिला रही हैं कि औरंगजेब की शहादत बेकार नहीं जाएगी।