December 1, 2022 6:13 am
featured दुनिया देश भारत खबर विशेष मनोरंजन

पुन्यतिथिः फिल्म ‘द ताशकंद फाइल्स’ का पोस्टर रिलीज हुआ

लाल बहादुर शास्त्री पुन्यतिथिः फिल्म 'द ताशकंद फाइल्स' का पोस्टर रिलीज हुआ

लाल बहादुर शास्त्री की पुन्यतिथिः पिछले दिनों पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के कार्यकाल पर उनके मीडिया सलाहकार रहे संजय बारू की किताब पर बनी फिल्म ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ का ट्रेलर रिलीज हुआ। जिसके बाद फिल्म का विरोध हुआ। इसके बाद अब दूसरी फिल्म का पोस्टर रिलीज हुआ। फिल्म का नाम ‘द ताशकंद फाइल्स’ है, इसके डायरेक्टर विवेक अग्निहोत्री हैं।

 

लाल बहादुर शास्त्री पुन्यतिथिः फिल्म 'द ताशकंद फाइल्स' का पोस्टर रिलीज हुआ
पुन्यतिथिः फिल्म ‘द ताशकंद फाइल्स’ का पोस्टर रिलीज हुआ

इसे भी पढ़ें-मनमोहन सिंह ने उर्जित पटेल के इस्तीफे को बताया दुर्भाग्यपूर्ण

गौरतलब है कि फिल्म लाल बहादुर शास्त्री के जीवन में सबसे ज्यादा विवादास्पद पहलू उनकी मौत पर बन रही है। विदेश में हुई उनकी मौत के रहस्य की गुत्थी अभी तक नहीं सुलझी है। 11 जनवरी, 1966 को सोवियत रूस में लाल बहादुर शास्त्री की मौत हुई थी। इस फिल्म में क्या है इस पर भी अटकलें जारी हैं। शास्त्री की मोत के दौरान उनके होटल में ही मौजूद पत्रकार कुलदीप नैयर के अनुसार कैसे घटित हुआ था ये वाकया..?

साल 1965 में भारत ने पाकिस्तान के कश्मीर पर हमले के बाद कच्छ की ओर से पाकिस्तान में सेना को भेजने का निश्चय किया है। पाकिस्तान के अच्छे-खासे इलाके का अतिक्रमण कर लिया। लेकिन लाल बहादुर शास्त्री ने 1966 में हुए ताशकंद समझौते में पाकिस्तान को हाजी पीर और ठिथवाल के जीते इलाके वापस दे दिए। इस पर उनको आलोचना का सामना भी करना पड़ा था।

इसे भी पढ़ेंःमनमोहन सिंह ने किया पीएम मोदी पर वार, मोदी को कहा ‘असत्यवादी प्रधानमंत्री’

जानकारी के मुताबिक कुलदीप नैयर बताते हैं कि देर रात शास्त्री ने अपने घर पर फोन किया, फोन उनकी सबसे बड़ी बेटी ने उठाया था। फोन उठते ही शास्त्री बोले, ‘अम्मा को फोन दो’ शास्त्री अपनी पत्नी ललिता को अम्मा कहा करते थे। उनकी बड़ी बेटी ने जवाब दिया, अम्मा फोन पर नहीं आएंगीं। शास्त्री जी ने पूछा क्यों..? जवाब आया क्योंकि आपने हाजी पीर और ठिथवाल पाकिस्तान को दे दिया है। वो बहुत नाराज हैं। शास्त्री को इस बात से बहुत धक्का लगा।

इसे भी पढ़ेंःरविशंकर प्रसाद ने बीजेपी पर बोला हमला,कहा-आपातकाल का DNA कांग्रेस में है

फोन पर इतना सुनकर वो परेशान हो गये और अपने कमरे में चक्कर लगाने लगे। हालांकि कुछ ही देर में उन्होंने फिर से अपने सचिव वेंटररमन को फोन किया। वो भारत में नेताओं की प्रतिक्रिया जानना चाहते थे। वेंटररमन ने कहा कि अभी तक दो ही प्रतिक्रियाएं आई हैं, एक अटल बिहारी वाजपेयी की और दूसरी कृष्ण मेनन की। दोनों ने ही उनके इस कदम की निंदा की है।

कुलदीप के अनुसार भारत-पाकिस्तान समझौते की खुशी में पार्टी चल रही थी और वह शराब नहीं पीते थे इस लिए अपने कमरे में आ गए और सोते हुए सपना देखा कि लाल बहादुर शास्त्री की मौत हो गई। वह बाहर निकले तो देखा कि सामने एक रूसी औरत खड़ी थी, जो उनसे बोली, “यॉर प्राइम मिनिस्टर इज दाइंग”।

इसे भी पढ़ें-मनमोहन सिंह ने किया पीएम मोदी पर वार, मोदी को कहा ‘असत्यवादी प्रधानमंत्री’

Related posts

पीएम मोदी के सुरक्षा काफिले में शामिल हुई नई कार, न होगा धमाके का असर, AK-47 की गोलियां भी होंगी बेअसर

Saurabh

राजद विधायक ने आतंकी मसूद अजहर को कहा ‘साहब’, एक बार फिर मचा बवाल

bharatkhabar

बढ़ते प्रदूषण में हवा को शुद्ध करने के लिए बेहतर ऑप्शन है एयर प्यूरीफायर, जानें फीचर्स और कीमत

Trinath Mishra