fb whatsapp1 डाटा लीक मामले पर बोले वॉट्सऐप के सह-संस्थापक, डिलीट कर दो फेसबुक

डाटा लीक होने के कारण परेशानी का सामना कर रहा दुनिया की सबसे लोकप्रिय सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक के लिए अब एक और मुसीबत आकर खड़ी हो गई है। पिछले साल फेसबुक की साथी आई कंपनी वॉट्सऐप ने अलग होने का फैसला कर लिया है। वॉट्सऐप के सह-संस्थापक ब्रायन एक्टन ने ट्वीटर के ज़रिए इस बात की जानकारी सोशल मीडिया पर शेयर की।

fb whatsapp1 डाटा लीक मामले पर बोले वॉट्सऐप के सह-संस्थापक, डिलीट कर दो फेसबुक

उन्होंने ट्वीट किया, ‘It is time.#deletefacebook.’ एक्टन को ट्विटर पर करीब 21,00 लोग फॉलो करते हैं। अभी तक यह स्पष्ट नहीं है कि एक्टन ने फेसबुक डिलीट करने के लिए क्यों कहा है।

आपको बता दें कि फेसबुक ने साल 2014 में जेन कॉम और ब्रायन एक्टन से वॉट्सऐप से 16 बिलियन डॉलर में इसे खरीद लिया था। कॉम ने कंपनी के साथ काम जारी रखा, जबकि एक्टन ने अपना खुद का फाउंडेशन शुरू किया।

 

ऐसा पहली बार नहीं है इससे पहले भी पिछले साल एक पूर्व एग्जिक्यूटिव ने कंपनी पर आरोप लगाते हुए कहा था, ‘हमने ऐसे टूल्स बनाए हैं जिससे समाज के काम करने के तरीकों का भी पता चलता है।’ हाल ही में फेसबुक की सिक्योरिटी चीफ ने कंपनी छोड़ने के साथ इंटरनेट पर बातें करना शुरू कर दिया था।

 

गौरतलब है कि फेसबुक से 5 करोड़ यूजर्स की पर्सनल इंफोर्मेशन लीक होनी खबरें सुर्खियों में है। दावा किया जा रहा है कि डाटा का उपयोग अमेरिकी चुनाव में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के लिए किया गया था। खबर है कि ट्रंप की कैंपिंग कर रही कैम्ब्रिज एनालिटिक फर्म ने वोटर्स की राय को मैनुप्यूलेट करने कि लिए फेसबुक यूजर्स के डेटा में सेंध लगाई थी। इस मामले में फेसबुक साईओ मार्क जुकरबर्ग से जवाब तलाब किया जा रहा है। इस मामले के सामने आने के बाद कैम्ब्रिज एनालिटिक साईओ के एलेक्ज़ेंडर निक्स को कंपनी से निकाल दिया गया है।

 

विकास कार्यों में पारदर्शिता लाने के लिए बनाया गया सॉफ्टवेयर

Previous article

SC ने लगाई जेपी ग्रुप को फटकार, 10 मई तक कराएं 200 करोड़ जमा

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.