दहेज मांगने पर युवती खफा, बोली ले जाओ बारात, मैं नहीं करूंगी शादी

दहेज मांगने पर युवती खफा, बोली ले जाओ बारात, मैं नहीं करूंगी शादी

एजेंसी, छपरा। सारण जिले के तरैया थाना क्षेत्र के डुमरी छपिया गांव में दहेज तथा दूल्हा के शराबी होने के कारण दुल्हन ने शादी करने से इंकार कर दिया और बिना विवाह किए ही दूल्हा समेत बारातियों को शनिवार की सुबह बैरंग वापस लौटना पड़ा। बताया जाता है कि छपरा मुफस्सिल थाना क्षेत्र के मगाईडीह गांव से शिवपूजन साह के पुत्र बबलू कुमार की शादी के लिए बारात शुक्रवार की रात तरैया थाना क्षेत्र के डुमरी छपिया गांव गयी थी । त्रिभुवन साह की पुत्री रिंकी के साथ शादी होने वाली थी । इसके लिए बारात गई थी।

लड़का पक्ष नेे इस शादी में लड़की वालों से दहेज के रूप में घरेलू उपयोग के सामान के साथ साथ मोटी रकम भी ली थी। बारात पहुंचने के बाद रात को दरवाजा लगा। वर पूजा की रस्म अदायगी की गई। देर रात कन्या की गुरहथी भी की गई। मध्य रात को जब दूूल्हे राजा मंडप में शादी के लिए पहुंचे तो, उस समय न केवल उनके कदम लड़खड़ा रहे थे, बल्कि जुबान भी बहक रही थी। इतना ही नहीं वह सीधे से बैठ भी नहीं पा रहा था। उसके मुंह से शराब की बदबू आ रही थी। इस सबके बावजूद शादी के लिए कन्या को मंडप में लाया गया।

मंडप में आते ही कन्या नेे दूल्हे राजा की हरकत देखकर तुरंत शादी से इंकार कर दिया और मंडप से उठकर घर में चली गयी। फिर क्या था, दोनों तरफ खलबली मच गई। रात भर दोनों पक्षों के बीच मान मनौव्वल और समझौता का प्रयास जारी रहा । अंत में सुबह में बिना विवाह किये ही बारातियोंं को बैरंग वापस लौटा दिया गया। लड़का भी वापस लौट चुका है।

कुछ रिश्तेदार फिर से शादी कराने के प्रयास में लगे हुए हैं, लेकिन त्रिभुवन साह की पुत्री रिंकी कुमारी शराबी दूल्हे के साथ शादी करने से साफ साफ मना कर चुकी है। हालांकि इस मामले में पुलिस को कोई सूचना नहीं दी गई है । इस संबंध में पूछने पर तरैया थानाध्यक्ष ने कहा कि इस तरह की कोई घटना की लिखित सूचना नहीं मिली है।