David Warner Steven Smith क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने लगाया स्टीव और वॉर्नर पर एक साल का प्रतिबंध

केपटाउन। बॉल टैम्परिंग के मामले में फंसे ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी डेविड वॉनर और स्टीन स्मिथ पर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने एक साल के लिए बैन लगा दिया है। दरअसल दोनों खिलाड़ियों ने केपटाउन में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेले जा रहे टेस्ट मैच के दौरान बॉल टेम्परिंग की थी, जिसके चलते उन पर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने ये कार्रवाई की है। इसके अलावा गेंदबाद कैमरुन बैनक्राफ्ट पर 9 महीने के लिए प्रतिबंध लगा दिया है। हालांकि इन खिलाड़ियो पर अगले साल होने वाले विश्व कप को लेकर कोई खतरा नहीं है। वहीं आईपीएल में खेलने के सवाल पर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया का कहना है कि इसको लेकर फैसला बीसीसीआई करेगा। David Warner Steven Smith क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने लगाया स्टीव और वॉर्नर पर एक साल का प्रतिबंध

दक्षिण अफ्रीका पहुंचे क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जेम्स सदरलैंड ने कहा कि इस विवाद में शामिल कप्तान स्टीव स्मिथ, उप-कप्तान डेविड वार्नर और सलामी बल्लेबाज कैमरून बैनक्रॉफ्ट को सीए की आचार संहिता के उल्लंघन का दोषी पाया गया है और इसलिए टेस्ट सीरीज से इन्हें बाहर करते हुए इन पर एक साल का प्रतिबंध लगा दिया है। इस बैन का मतलब है कि डेविड वॉर्नर और स्टीवन स्मिथ भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज में भी नहीं खेल पाएंगे। भारत को इस साल के आखिर में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर जाना है, जहां वो 4 टेस्ट, 3 वनडे और 3 टी-20 मैच खेलेगी। तीनों आरोपी खिलाड़ियों को तुरंत ऑस्ट्रेलिया के लिए रवाना किया जा चुका था।

वहीं, टिम पेन टीम के कप्तान बने रहेंगे। साथ ही जेम्स सदरलैंड ने मुख्च कोच डैरेन लेहमन को क्लीनचिट दे दी है. सदरलैंड ने इस पूरे मामले के लिए माफी भी मांगी हैं। क्रिकेट डॉट कॉम डॉट एयू ने सदरलैंड के हवाले से लिखा। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने अपनी जांच में स्टीव स्मिथ, डेविड वार्नर और कैमरून बैनक्रॉफ्ट को बॉल टैम्परिंग का दोषी पाया है। इन तीनों को टेस्ट सीरीज से बाहर करने का फैसला लिया है। कोच डैरेन लेहमन इस मामले में शामिल नहीं हैं इसिलए वह कोच पद पर बने रहेंगे. तीनों खिलाड़ी तुरंत ऑस्ट्रेलिया के लिए रवाना होंगे।

सुखराम की अर्जी पर ग्रीष्मावकाश में सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट

Previous article

जीएसटी से फरवरी में सरकार ने जुटाए 85 हजार करोड़

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.