Covid-19: पहली डोज का बच्चों पर दिख रहा है सकारात्मक असर

कानपुर: कोरोना वैक्सीन का बच्चों पर क्लिनिकल ट्रायल पिछले दिनों किया गया, जिसके काफी सुखद परिणाम देखने को मिले हैं। इस ट्रायल में 12 वर्ष से 18 वर्ष के बीच के बच्चों को चुना गया। इन सभी को वैक्सीन की पहली डोज लगाई गई।

बनी हाई एंटीबॉडी

क्लिनिकल ट्रायल में शामिल हुए सभी बच्चों में हाई एंटीबॉडी पाई गई। इसके बाद अब स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा सभी बच्चों को कोवैक्सीन की दूसरी डोज भी लगाई जानी है, इसकी प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। पहली डोज का ट्रायल कुल 20 बच्चों का किया गया था, जिनमें से 19 बच्चों में हाई एंटीबॉडी पाई गई है। यह सकारात्मक परिणाम स्वास्थ्य विभाग के लिए अच्छे संकेत हैं। आने वाले समय में जल्द ही बच्चों में वैक्सीनेशन की प्रक्रिया को शुरू कर दिया जाएगा। दूसरी तरफ 18 वर्ष से ऊपर के लोगों का टीकाकरण तेजी से किया जा रहा है।

10 दिन तक चलेगा विशेष फोकस टेस्टिंग अभियान

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश में अगले 10 दिनों तक विशेष फोकस टेस्टिंग अभियान शुरू किया जाएगा। इसका असर कोरोना के बढ़ते मामलों पर नियंत्रण लगाने में किया जाएगा। तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए योगी आदित्यनाथ ने यह अभियान शुरू करने की बात कही। इस दौरान टेस्टिंग और वैक्सीनेशन पर भी विशेष जोर दिया जाएगा। यह कार्यक्रम 5 दिनों तक गांव में और 5 दिनों तक शहर में चलाया जाएगा।

लखनऊ: प्रियंका आज जायेंगी लखीमपुर, साड़ी कांड महिलाओं से करेंगी मुलाकात

Previous article

अब यूपी विधानसभा सचिवालय में लगी जींस और टी-शर्ट पर रोक, जानिए पूरा निर्देश

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured