September 30, 2022 9:07 pm
Breaking News featured देश यूपी

वाराणसी नगर निगम ने जारी किया म्युनिसिपल बॉन्ड, पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र को मिलेगी रफ्तार

0c2b8740 cf06 4c5f a6eb 6cec2476f28b वाराणसी नगर निगम ने जारी किया म्युनिसिपल बॉन्ड, पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र को मिलेगी रफ्तार

लखनऊ। देश और राज्य की प्रगति और उन्नति के लिए सरकार द्वारा आए दिन कोई न कोई योजनाएं चलाई जाती हैं। जिनके द्वारा देश की जनता को बड़ा ही फायदा मिलता है। इसके साथ ही बता दें कि कोरोना महामारी के दौर में सरकार द्वारा अनेक छोटी-बड़ी योजनाएं चलाई गई। जिनसे आम लोगों को खूब लाभ मिला है। इसी बीच अब वाराणसी नगर निगम 200 करोड़ का म्युनिसिपल बॉन्ड जारी करेगा। जिसका उपयोग शहर की तस्वीर बदलने में मदद करेगा। इससे पहले लखनऊ नगर निगम ने हाल ही बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में अपना म्युनिसिपल बॉन्ड जारी किया था और अब इसके बाद वाराणसी नगर निगम पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र काशी का बॉन्ड जारी करेगा। यह सब देखकर लग रहा है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में राज्य के नगर निकायों को स्वावलंबी बनाने की मुहिम तेजी से रंग ला रही है।

बॉन्ड जारी होने के बाद विभिन्न सेक्टरों की उन्नति होगी-

बता दें कि सरकार के मुताबिक, म्युनिसिपल बॉन्ड जारी होने के बाद नगर निगम की जनता में छवि अच्‍छी होगी और इससे दुनियाभर में निवेश को बढ़ावा मिलने में मदद मिलेगी। एक बयान में राज्य सरकार ने कहा कि वाराणसी नगर निगम ने बॉन्ड की पहले ही तैयारी करनी शुरू कर दी थी, इसके जरिए धनराशि जुटाई जाएगी। उस धनराशि को फिर वाराणसी के विभिन्न बुनियादी ढांचागत योजनाओं और विकास में निवेश किया जाएगा। इससे विभिन्न सेक्टरों की उन्नति होगी और साथ ही सरकार की आय बढ़ाने में भी मदद मिलेगी। इसके अलावा इस बजट की राशि से घाटों का विकास, रिंग रोड, श्री काशी विश्वनाथ धाम, रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर, फ्लाईओवर, सीएनजी से चलने वाली ट्रेनें और नाव और वायुमार्ग से कनेक्टिविटी जैसे कार्य किए जाएंगे।

जानें सीनियर फाइनेंशियल एक्सपर्ट मृदुल वर्मा ने क्या कहा-

इसके साथ ही एक शेयर कंपनी के वाइस प्रेजिडेंट और सीनियर फाइनेंशियल एक्सपर्ट मृदुल वर्मा ने बताया कि हर कोई अपना बॉन्ड जारी नहीं कर सकता। कम से कम तीन साल की बैलेंस शीट अच्छी होने पर ही BSE अपने यहां लिस्ट करती है। यानी इस बॉन्ड का जारी होना वाराणसी नगर निगम के अच्छे हालात दिखाता है।

Related posts

डॉक्टरों की लापरवाही से दो महिलाओं की मौत, परिजनों ने किया जमकर हंगामा

mahesh yadav

पैन कार्ड में ट्रांसजेंडर के लिए अलग कॉालम न होने पर केंद्र को नोटिस

rituraj

भारतीय चौकियों पर पाकिस्तानी सेना की गोलाबारी

bharatkhabar