September 20, 2021 10:03 pm
featured यूपी राज्य

सिसौली निवासी महिला की नोएडा मैं आई थी कोरोनॉ पॉजिटिव रिपोर्ट, टिकैत परिवार समेत सैकड़ो परिवार किये गए क्वारटाइन

naresh tfkait सिसौली निवासी महिला की नोएडा मैं आई थी कोरोनॉ पॉजिटिव रिपोर्ट, टिकैत परिवार समेत सैकड़ो परिवार किये गए क्वारटाइन

मुजफ्फरनगर। उत्तर प्रदेश में मुजफ्फरनगर के सिसौली में एक महिला के कोराना पॉजिटिव मिलने के बाद प्रशासन ने चौकसी बढ़ा दी है। जिला प्रशासन ने गुरुवार को कस्बे को सील कर दिया है। भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत और उनके परिवार के सभी सदस्य समेत 428 लोगों को होम क्वारंटाइन किया गया है। कोराना संक्रमित महिला के परिवारीजन को मुजफ्फरनगर शहर में क्वारंटाइन किया गया है। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने जांच के लिए नमूने लिए हैं।

बता दें कि मुजफ्फरनगर के सिसौली निवासी महिला बुधवार को नोएडा के एक हॉस्पिटल में कोरोना पॉजिटिव पाई गई थी। रात में ही पुलिस-प्रशासनिक टीम ने कस्बे में पहुंचकर लोगों को क्वांरटाइन करना शुरू किया था। संक्रमित महिला से मिलने वालों की हिस्ट्री निकाली गई, जिसमें सामने आया कि कि पहली अप्रैल को महिला नोएडा के एक अस्पताल में उपचार को गई थी। छह अप्रैल को आपरेशन के लिए बुलाया गया था। इसी बीच चार वह सिसौली में रही। जहां उसने बाजार से सब्जी व दैनिक उपयोग में आने वाली वस्तुओं की खरीदारी भी की। इसके साथ ही कस्बे के दो चिकित्सकों के यहां भी गई। एक दिन वह बैंक में भी गई थी।

इसके अलावा संक्रमित महिला का पति इस समय अवधि में कई बार बाजार गया। पूरी हिस्ट्री निकालने पर यह पाया गया कि सिसौली के 94 परिवारों के 428  लोगों के वह संपर्क में आई, जिन्हें गुरुवार को चिह्नित किया गया। सभी को होम क्वारंटाइन किया गया है। इसी बीच सामने आया कि कस्बे संक्रमित महिला के पड़ौस में एक बुजुर्ग महिला की तेहरवीं में वह भी शामिल हुई। तेहरवी में भाकियू अध्यक्ष चौ. नरेश टिकैत भी शामिल हुए थे। रस्म पगड़ी के बाद वह घर चले गए। जिसे देखते हुए प्रशासन ने भाकियू अध्यक्ष समेत परिवार के सदस्यों को होम क्वांरटाइन किया है।

एहतियात के तौर पर सिसौली में प्रवेश करने वाले मार्गों पर पुलिसबल तैनात किया गया है। क्वारंटाइन किए गए लोगों से 14 दिन तक किसी भी बाहरी व्यक्ति से मिलने की मनाही की गई है। वहीं संक्रमित महिला के परिवारीजन को प्रशासनिक टीम मुजफ्फरनगर लेकर आई और एक होटल में क्वारंटाइन कर दिया। उनका स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। पूरे दिन चले अभियान में एसपी देहात नेपाल सिंह, एसडीएम बुढाना भूपेंद्र सिंह, थाना अध्यक्ष वीरेंद्र कसाना और स्वास्थ्य विभाग की टीम मौजूद रहे।

भाजपा से बुढ़ाना विधायक उमेश मलिक पांच अप्रैल को सिसौली गए थे, जिस बुजुर्ग महिला की तेहरवीं में भाकियू अध्यक्ष शामिल हुए थे, उसी परिवार से शोक संवेदना व्यक्त कर विधायक समर्थकों के साथ उनके घर गए थे। विधायक उमेश मलिक ने बताया कि उन्होंने मृतक के परिवारीजन को कोरोना वायरस के प्रभाव का जिक्र करते हुए कहा था कि छह अप्रैल को होने वाली तेहरवीं में अधिक भीड़ एकत्र न करें।

Related posts

दिल्ली के बाद अब राजस्थान में वकीलों ने पुलिसकर्मियों को पीटा

Rani Naqvi

फतेहपुर में अनूठी पहल, इस गौशाला में लगा बांसुरी का म्यूजिक सिस्टम

Shailendra Singh

इस क्रिकेटर की पत्नी ने कहा था कि, अगर आप क्रिकेट छोड़ोगे तो मैं आपके साथ नहीं रहूंगी

mahesh yadav