September 23, 2021 11:52 am
featured देश

कोरोना का नया टेस्ट: अब 2 दिन में नहीं बल्कि 5 मिनट में हो पता चल जाएगा कोरोना के बारे में

Bharat Khabar | छत्तीसगढ़ करोना पॉजिटिव | Special News in Hindi | News Today in Chhattisgarh | News in hindi in Chhattisgarh

नई दिल्ली: मेडिकल डिवाइस बनाने वाली अमेरिकी कंपनी एबॉट लेबोरेटरीज ने कोरोना वायरस के संक्रमण की जांच के लिए एक पोर्टेबल टेस्ट का प्रदर्शन किया है। कंपनी का दावा है कि यह टेस्ट पांच मिनट में इस बात का पता लगा सकता है कि कोई व्यक्ति कोरोना वायस से संक्रमित है या नहीं। कंपनी ने कहा कि इससे तेजी से कोरोना वायरस के मामलों की जांच हो सकेगी। कंपनी ने ट्वीट करके इसकी जानकारी दी। कंपनी ने विज्ञप्ति में कहा कि यह टेस्ट उसके ID NOW प्लेटफॉर्म पर होगा। यह एक छोटा, हल्का और पोर्टेबल डिवाइस है, जो मोलिक्यूलर प्रौद्योगिकी पर काम करता है। 

बता दें कि एबॉट लैब ने प्रेस विज्ञप्ति में कहा कि अमेरिका खाद्य एवं औषधि प्राधिकरण (FDA)ने कोरोनावायरस का पता लगाने के लिए मोलिक्यूलर प्वाइंट ऑफ केयर टेस्ट के लिए आपातकालीन उपयोग मंजूरी (EUA) जारी कर दिया है। यह टेस्ट पांच  मिनट में पॉजिटिव और 13 मिनट में निगेटिव रिजल्ट दे सकता है। हल्का और छोटे होने के नाते इस उपकरण को क्लीनिक में भी प्रयोग किया जा सकता है। इस डिवाइस का इस्तेमाल अमेरिका में इन्फ्लुएंजा ए और बी, स्ट्रेप ए और आरएसवी परीक्षण  के लिए पहले से किया जा रहा है।

लगभग समूची दुनिया में कोरोना वायरस और उससे पैदा होने वाली बीमारी COVID-19 का खतरा लगातार बढ़ता नज़र आ रहा है, और उसकी वैक्सीन बनाने के साथ-साथ फिलहाल उसकी टेस्ट किट बनाने की कोशिशें भी लगातार जारी हैं, ताकि पुष्टि में लगने वाला समय घटाया जा सके। मौजूदा समय में कोविड-19 के मरीज़ की पुष्टि करने में दो दिन या उससे ज़्यादा वक्त लग रहा है। 

इससे पहले, जर्मनी की एक कंपनी ने दावा किया था कि उनके द्वारा विकसित नई जांच किट से कोरोना का टेस्ट सिर्फ ढाई घंटे में रोग की पुष्टि कर देगा। ब्लूमबर्ग में प्रकाशित ख़बर के अनुसार, रॉबर्ट बॉश जीएमबीएच के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) वोल्कमार डेनर ने गुरुवार को एक बयान में दावा किया कि उनकी कंपनी की टेस्ट किट के ज़रिये ढाई घंटे से भी कम समय में कोविड-19 की पुष्टि की जा सकती है, जिससे इस महामारी से जंग में मदद मिलेगी। ऐसे में जर्मनी की एक कंपनी ने दावा किया है कि उनके द्वारा विकसित नई जांच किट से यही टेस्ट सिर्फ ढाई घंटे में रोग की पुष्टि कर देगा।

Related posts

अखिलेश यादव का बड़ा आरोप, कहा- भाजपा की लोकतंत्र में आस्‍था नहीं, उसकी चाल…

Shailendra Singh

कोलकाता के पूर्व महापौर शामिल होंगे भाजपा में, तृणमूल कांग्रेस से तोड़ेंगे ‘ममता’

bharatkhabar

भारत-चीन तनाव पर जल्द हो सकती है विशेष बैठक

Trinath Mishra