September 28, 2021 8:02 am
featured Sputnik News - Hindi-Russia दुनिया

चीन के बाद अब इटली में कोरोना वायरस का कहर, अब तक 366 की मौत

कोरोना वायरस 2 1 चीन के बाद अब इटली में कोरोना वायरस का कहर, अब तक 366 की मौत

वेनिस। कोरोना वायरस ने तकरीबन पूरी दुनिया को अपनी गिरफ्त में ले लिया है। कम से कम 95 देशों में 1 लाख 7 हजार से ज्यादा लोग इस घातक वायरस से संक्रमित हैं। हालांकि, राहत की बात यह है कि इसके चपेट में आने वाले आधे से ज्यादा लोग ठीक भी हो चुके हैं। इस वायरस ने दुनियाभर में अब तक 3,654 लोगों की जान ली है। इनमें से 557 को छोड़कर सभी मौतें चीन में हुईं हैं। चीन से बाहर होने वाली मौत के आधे से ज्यादा मामले अकेले इटली में हुए हैं, जहां रविवार तक 336 लोगों को इस वायरस ने लील लिया था।

बता दें कि इससे पहले कोरोना वायरस से होने वाली मौत के मामले में दक्षिण कोरिया चीन के बाद दूसरे नंबर पर था लेकिन रविवार को इटली में मौत के आंकड़े तेजी से बढ़े। स्थिति की गंभीरता का अंदाजा इसी से लगा सकते हैं कि रविवार को अचानक इटली में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 133 से करीब 3 गुना बढ़ते हुए 366 हो गई। यानी एक ही दिन में 233 की मौत। इनमें भी ज्यादातर मौतें इटली के सबसे समृद्ध उत्तरी इलाके में हुई हैं।

इटली के प्रधानमंत्री गिसेप कोंटे ने रविवार को कोरोना संक्रमण में खतरनाक तेजी के बाद नैशनल इमर्जेंसी का ऐलान किया। रविवार को इटली में कोरोना संक्रमण का आंकड़ा एक ही दिन में 1,492 से बढ़कर 7,375 पर पहुंच गया। अभी दक्षिण कोरिया में कोरोना संक्रमण के 7,313 मामलों की पुष्टि हुई है। हालांकि सोल के लिए राहत की बात है कि संक्रमण की रफ्तार धीमी हुई है।

सबसे बुरी स्थिति सबसे अमीर उत्तरी इटली में है। हालात से निपटने के लिए इटली सरकार ने रविवार को अपनी करीब एक चौथाई आबादी पर आने-जाने संबंधी पाबंदियां लगा दी यानी 1.6 करोड़ लोग एक तरह से कैद जैसी स्थिति में रखे गए हैं। यह पाबंदियां उत्तरी इटली में लगाई गईं हैं जिसे देश की इकॉनमी का इंजन कहा जाता है। पाबंदियों की वजह से नॉर्थ इटली के सभी म्यूजियम, मूवी थिअटर, डिस्को, बेटिंग पार्लर आदि को बंद कर दिया गया है।

नॉर्थ इटली देश की आर्थिक गतिविधियों का केंद्र तो है ही, यहीं पर मिलान भी है जिसे सांस्कृतिक राजधानी कहा जाता है। वेनिस जैसे तमाम ऐतिहासिक पर्यटन स्थल इटली के इसी हिस्से में हैं। प्रधानमंत्री कोंटे ने हालांकि यह नहीं बताया कि ये पाबंदियां कब तक लागू रहेंगी लेकिन सरकार के एक ड्राफ्ट के मुताबिक यह कम से कम 3 अप्रैल तक लागू रह सकती हैं। इटली की सिविल प्रोटेक्शन एजेंसी के चीफ एंजेलो बोरेली ने कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए इटली 2.2 करोड़ सर्जिकल मास्क का ऑर्डर दे रहा है।

Related posts

दिल्ली से मजदूरों के पलायन पर दिल्ली उप-राज्यपाल ने लिखा केजरीवाल को पत्र, जताई चिंता

Rani Naqvi

सेना विद्रोही महिलाओं के प्राइवेट पार्ट पर मारे गोली: दुतेर्ते

Vijay Shrer

मेरठ में हुआ दर्दनाक सड़क हादसा, 4 की मौत, 15 घायल

rituraj