September 25, 2022 8:07 pm
featured देश

भारतीय नौसेना पर आया कोरोना का खतरा, 21 नोसैनिक कोरोना पॉजिटिव पाए गए 

Bharat Khabar | भारतीय नौसेना पर आया कोरोना का खतरा | Special News in Hindi | Hindi News | Latest and Breaking News

नई दिल्ली। कोरोना वायरस अपना पैर पसारता जा रहा है। हर क्षेत्र में इसके संक्रमण की रिपोर्ट आ रही है। भारतीय नौसेना के जवानों में भी इसके प्रसार का डर पैदा हो गया है। बताया जा रहा है कि नौसेना में 25 से अधिक कर्मियों के कोरोना टेस्ट हो चुके हैं और इनमें से 21 पॉजिटिव बताए जा रहे हैं। आईएनएस आंग्रे, मुंबई में 20 पॉजिटिव केस पाए गए हैं। बताया जा रहा है कि आईएनएस आंग्रे, मुंबई परिसर में एक नाविक से बाकी लोगों में इसका संक्रमण फैला है। यह नाविक 7 अप्रैल को हुई जांच में पॉजिटिव पाया गया था। आईएनएस आंग्रे, मुंबई परिसर में लोगों को क्वारनटीन कर दिया गया है। साथ ही संक्रमण और न फैले इसके लिए सभी कदम उठाए गए हैं। अच्छी बात ये है कि संक्रमण जहाज और पनडुब्बियों में संक्रमण का कोई मामला नहीं। 

बता दें कि देश में कोरोना वायरस के संक्रमित मरीजों में लगातार इजाफा देखने को मिल रहा है। कोरोना वायरस के मरीजों का इलाज कर रहे स्वास्थ्यकर्मी भी कोरोना वायरस की चपेट में आ रहे हैं। वहीं भारतीय सेना में शामिल अधिकारी भी कोरोना वायरस की चपेट में आ रहे हैं। भारतीय सेना के एक लेफ्टिनेंट कर्नल रैंक डॉक्टर कोविड-19 से पॉजिटिव पाए गए हैं।

भारतीय सेना के एक लेफ्टिनेंट कर्नल रैंक अधिकारी एंटी-कोविड ऑपरेशंस में डॉक्टर के रूप में अपनी सेवाएं दे रहे थे। हालांकि अब उन्हें कोविड-19 से संक्रमित पाया गया है। इसके साथ ही सेना में संक्रमितों की संख्या बढ़कर पांच हो गई है। सेना के सूत्रों ने कहा, ‘सेना के डॉक्टर को दिल्ली में सेना मुख्यालय के एक हिस्से में तैनात किया गया था और वे एंटी-कोविड अभियानों में शामिल थे।

सेना के सूत्रों ने बताया था कि अब एहतियाती उपाय के तौर पर अधिकारी के कॉन्ट्रैक्ट हिस्ट्री का पता लगाया जा रहा है। साथ ही जो लोग भी उनके संपर्क में आए थे, उनकी जानकारी को इकट्ठा किया जा रहा है। वहीं संपर्क में आए लोगों को आइसोलेट किया जा रहा है। लेफ्टिनेंट कर्नल रैंक के आर्मी डॉक्टर कोविड-19 से निपटने के लिए सुविधाओं और बुनियादी ढांचे की तैयारी में शामिल रहे हैं। लेफ्टिनेंट कर्नल ऐसे दूसरे डॉक्टर और कुल पांचवें शख्स हैं जो सेना में कोविड-19 से संक्रमित पाए गए हैं।

भारतीय सेना में इससे पहले भी कोरोना संक्रमितों की पुष्टि हो चुकी है। सबसे पहले लद्दाख में एक जवान था जो अपने पिता के कारण कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुका था। सेना में कोरोना वायरस का ये पहला मामला था। सेना में दूसरा मामला कोलकाता के एक कर्नल रैंक के डॉक्टर का था, जो दिल्ली से लौटे थे।

Related posts

कॉमनवेल्थ गेम्स में मेरठ की बेटी प्रियंका गोस्वामी ने 10 किलोमीटर की रेस वॉक में जीता सिल्वर, घर पर लगा बधाई देने वालों का तांता

Rahul

डोनाल्ड ट्रंप ने स्पीट के लिए बुलाया लेकिन स्पीच से पहले सो गया ये छोटा ट्रंप, सोशल मीडिया पर बना हीरो

Rani Naqvi

SC ने केन्द्र की महत्वाकांक्षी योजना आधार को संवैधानिक रूप से वैध माना

mahesh yadav