January 18, 2022 1:52 pm
featured उत्तराखंड

उत्तराखंड के ऋषिकेश एम्स में भर्ती कोरोना पॉजिटिव 56 वर्षीय महिला की मौत

corona 2 उत्तराखंड के ऋषिकेश एम्स में भर्ती कोरोना पॉजिटिव 56 वर्षीय महिला की मौत

देहरादून। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान ऋषिकेश में भर्ती लाल कुआं नैनीताल निवासी 56 वर्षीय महिला की आज मौत हो गई है। महिला को दो मार्च को ब्रेन अटैक हुआ था। जिसके बाद उसे हल्द्वानी के दो हॉस्पिटल में रखा गया। उसके बाद बरेली रेफर किया गया था। 22 अप्रैल को यह महिला एम्स ऋषिकेश में भर्ती की गई। यहां दो दिन पूर्व जांच में महिला में कोविड-19 पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई थी। एम्स की कोविड-19 नोडल अधिकारी डॉक्टर मधुर उनियाल ने बताया कि शुक्रवार सुबह महिला की मौत हो गई है। शव का चिकित्सकों के पैनल द्वारा पोस्टमार्टम किया जाएगा। तब तक यह कह पाना मुश्किल है कि महिला की मौत कोविड-19 के कारण हुई है या ब्रेन अटैक के कारण।

वहीं, ऊधमसिंहनगर जिले में कोरोना संक्रमण के मामले फिर यकायक बढ़ने लगे हैं। बाजपुर निवासी एक ट्रक ड्राइवर के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद बीते रोज फिर दो लोग संक्रमित पाए गए। पिछले दो दिन के भीतर ऊधमसिंहनगर में कोरोना के तीन मामले आ चुके हैं। बता दें, प्रदेश में अब तक 57 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं, जिनमें 36 ठीक हो चुके हैं। वर्तमान में उत्तराखंड में 21 एक्टिव केस हैं।

स्वास्थ्य महानिदेशक डॉ. अमिता उप्रेती ने बताया कि बीते रोज 553 सैंपल की रिपोर्ट मिली है। जिनमें 551 की रिपोर्ट निगेटिव व दो केस पॉजिटिव हैं। कोरोना संक्रमित दोनों युवक सोमेश्वर, अल्मोड़ा के रहने वाले हैं। बताया कि बुधवार को बाहर से आए कुल पांच लोगों को रामपुर बार्डर पर रोका गया था। यह सभी श्रमिक हैं और अल्मोड़ा जिले के रहने वाले हैं। स्वास्थ्य महानिदेशक के अनुसार यह लोग महाराष्ट्र व दिल्ली से वापस घर लौट रहे थे। बाहर से आने के कारण पुलिस ने इन्हें जिला अस्पताल स्वास्थ्य जांच के लिए भेज दिया था, जहां से इनका सैंपल जांच के लिए भेजा गया। 

https://www.bharatkhabar.com/preparations-are-being-for-the-opening-doors-of-shri-badrinath-dham-you-also-see/

बीते रोज इनमें दो की रिपोर्ट पॉजिटिव, जबकि तीन की निगेटिव आई है। उधर, कोरोना संक्रमिक बाजपुर निवासी ट्रक ड्राइवर की पत्नी को भी जिला अस्पताल में आइसोलेट किया गया है। जिसकी जांच रिपोर्ट अभी नहीं आई है।

उन्होंने बताया कि प्रदेश में 36 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। इस मुताबिक प्रदेश में रिकवरी रेट 63.16 प्रतिशत है, जबकि मामले डबल होने की दर भी 25 दिन है। एक अच्छी बात यह भी है कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण दर लगातार नीचे जा रही है। वर्तमान में यह 0.92 प्रतिशत है। उन्होंने बताया कि हाल में 15,470 लोगों को होम क्वारंटाइन, जबकि 2221 लोगों को संस्थागत क्वारंटाइन किया गया है। बीते रोज 147 और सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। इनमें सर्वाधिक 38 सैंपल जिला ऊधमसिंहनगर से हैं, जबकि देहरादून व नैनीताल से 37-37, हरिद्वार से 14, अल्मोड़ा व उत्तरकाशी से दस-दस और रुद्रप्रयाग से एक सैंपल जांच के लिए भेजा गया है। वहीं निजी लैब में भी अभी 31 सैंपल की जांच होनी है। श्रीनगर मेडिकल कॉलेज में जांच शुरू होने के बाद अब इसमें और तेजी आएगी।

कोरोना संक्रमण जैसे लक्षण वाले लोगों की पहचान के लिए किया जा रहा कम्युनिटी सर्विलांस दूसरे चरण में है। बीते रोज इस का ग्राफ दो लाख 93 हजार से अधिक लोगों तक पहुंच गया है। निरंतर राहत की यह भी बात है कि इस सर्वे में गुरुवार को कोई भी संदिग्ध लक्षण वाला व्यक्ति नहीं मिला। औचक रूप से 43 टीमों ने 253 लोगों से फोन पर भी बात की। पता चला कि उनमें खांसी-जुकाम के लक्षण नहीं हैं और उनका सर्वे पहले भी किया जा चुका है।

uttrakhand 5 उत्तराखंड के ऋषिकेश एम्स में भर्ती कोरोना पॉजिटिव 56 वर्षीय महिला की मौत

Related posts

सूर्य ग्रहण देख प्रधानमंत्री मोदी ने जताया इस बात का दुख, आप भी जाने

Rani Naqvi

ठीक हुआ दिल्ली में कोरोना वायरस का पहला मरीज, बिजनेसमैन ने बताया इस वायरस को झेलने का अपना अनुभव

Rani Naqvi

जम्मू-कश्मीरः राज्यपाल ने सुरक्षा बलों को ‘SOP’ का सख्ती से पालन करने के दिए निर्देश

mahesh yadav