मथुरा में 10 कोरोना संक्रमित मिलने से प्रशासन अलर्ट, अब उठाएगा ये कदम  

नई दिल्ली: देश में कोरोना संक्रमण की स्थिति अब आउट ऑफ कंट्रोल हो गई है। पहली सवा लाख से ज्यादा मामले दर्ज किए गे है। दुनिया में सबसे ज्यादा केस हर दिन भारत में ही आ रहे हैं। कोरोना के नए मामले अपना रिकॉर्ड पर रिकॉर्ड तोड़ते जा रहे है। इस साल तीसरी बार देश में तीन लाख से ज्यादा केस दर्ज किए गए हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट के अनुसार पिछले 24 घंटे में 1 लाख 26 हजार 789 नए केस की पुष्टि हुई है। और 685 लोगों की जान चली गई। हालांकि इस बीच 59 हजार 258 लोग कोरोना को मात देकर ठीक भी हुए हैं। यानी आज की बात करें तो रिकवरी रेट 50 फीसदी से भी कम है।

आज देश में कोरोना की स्थिति-

कुल कोरोना केस- एक करोड़ 29 लाख 28 हजार 574
कुल डिस्चार्ज- एक करोड़ 18 लाख 51 हजार 393
कुल एक्टिव केस- नौ लाख 10 हजार 319
कुल मौत- एक लाख 66 हजार 862
कुल टीकाकरण- 9 करोड़ 1 लाख 98 हजार 673

महाराष्ट्र में अब तक के सबसे ज्यादा केस

महाराष्ट्र में कोरोना तो चरम पर और इस कदर तबाही मच रहा है कि राज्य के हालात बदतर होते जा रहे है। पिछले चार दिनों से लगातार 50 हजार से ज्यादा मामले दर्ज किए जा रहे हैं। राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 31 लाख 73 हजार के पार पहुंच चुकी है। पिछले 24 घंटे में 89,907 नए मामले दर्ज किए गए हैं। जबकि 322 लोगों की मौत हुई है। राज्य में मृतकों की संख्या भी 56 हजार 652 पहुंच गई है। प्रदेश में 80 लाख से ज्यादा लोगों को टीका भी दिया जा चुका है।

कल 29 लाख लोगों को दी गई वैक्सीन की डोज

देश में अब तक 9 करोड़ 2 लाख कोरोना डोज दिए जा चुके हैं। बीते दिन 29 लाख 79 हजार 292 लोगों को वैक्सीन की खुराक दी गई है। वैक्सीन की दूसरी खुराक देने का अभियान 13 फरवरी से शुरू हुआ था। 1 अप्रैल से 45 साल से ऊपर से सभी लोगों को टीका लगाया जा रहा है।

लगातार घट रहा रिकवरी रेट

देश में कोरोना से मृत्यु दर 1.30 फीसदी है जबकि रिकवरी रेट करीब 92 फीसदी है। एक्टिव केस बढ़कर करीब 7 फीसदी हो गया है। कोरोना एक्टिव केस मामले में दुनिया में भारत का 4वां स्थान है।

आज शाम पीएम करेंगे हाई लेवल मीटिंग

देश में बढ़ते संक्रमण को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राज्य के मुख्यमंत्रियों के साथ मीटिंग करेंगे। और बैठक में बढ़ते संक्रमण पर रोकथाम लगाने के लिए रणनीति बनाई जाएगी। मीटिंग में सीएम के साथ उच्च अधिकारियों से भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये चर्चा करेंगे। दो दिन पहले ही पीएम मोदी ने कोरोना रिव्यू मीटिंग की थी, जिसमें पीएम मोदी ने अधिकारियों को निर्देश दिए थे कि कोरोना रोकने के लिए सख्त कदम उठाए जाएं।

इसके अलावा पीएम मोदी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से वैक्सीनेशन पर भी चर्चा करेंगे। हाल ही में शुक्रवार को कैबिनेट सचिव, राजीव गौबा के साथ हुई बैठक में, 11 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों को उनके बढ़ते दैनिक मामले और रोजाना हो रही मौतों के कारण महाराष्ट्र, पंजाब, कर्नाटक, केरल, छत्तीसगढ़, चंडीगढ़, गुजरात, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु, दिल्ली और हरियाणा को गंभीर चिंता वाले राज्य के रूप में वर्गीकृत किया गया।

फोकस वैक्सीनेशन से यूपी में लगेगी कोरोना पर लगाम

Previous article

डिजिटल ओपीडी से होगा केजीएमयू में इलाज, वीडियो कॉल से जुड़ेंगे मरीज

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured