January 24, 2022 3:54 pm
featured दुनिया

ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में बनकर तैयार हुई कोरोना का दवाई, जानिए कैसे कर रही काम..

corona vacine ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में बनकर तैयार हुई कोरोना का दवाई, जानिए कैसे कर रही काम..

कोरोना महामारी पूरी दुनिया पर कहर बरसा रही है। जिसकी वजह से करोड़ो लोग इसकी गिरफ्त में आ चुके हैं और लाखों लोग अपनी जान से हाथ धो बैठे हैं। तमाम कोशिशों के बाद कोरोना की कोई सही दवाई न मिलने की वजह से ये चुनौती और भी ज्यादा बढ़ती जा रही है। इस बीच कोरोना की दवाई को लेकर एक अच्छी खबर सामने आयी है।

corona russaia 1 ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में बनकर तैयार हुई कोरोना का दवाई, जानिए कैसे कर रही काम..
ब्रिटेन के ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में तैयार किये रहे कोरोना वैक्सीन को लेकर अच्छी खबर आ रही है। वैक्‍सीन के ट्रायल में उम्‍मीदों से दोगुने अच्‍छे नतीजे सामने आये हैं। बताया जा रहा है वैक्‍सीन कोरोना के खिलाफ जरूर असर करेगी।आपको बता दे, ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की कोरोना वैक्सीन के ह्यूमन ट्रायल से सबसे ज्यादा उम्मीदें है। अगर यह सफल हो जाता है तो न सिर्फ इस महामारी से लोगों को मुक्ति मिलेगी बल्कि इससे संक्रमित लाखों मरीजों की जान भी बचाई जा सकती है।

ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं और वैज्ञानिकों ने AZD1222 नाम के एक कोरोना वैक्सीन को बनाया है। जिसे इस महामारी के खिलाफ सबसे प्रभावी बताया जा रहा है। वैज्ञानिकों और विशेषज्ञों को भरोसा है कि इस वायरस के खिलाफ यह वैक्सीन जरूर काम करेगा।
ऑक्सफोर्ड की वैक्सीन रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में काम कर रही है. 1077 लोगों पर हुए ट्रायल में पाया गया कि इससे कोविड-19 से लड़ाई के लिए एंटीबॉडी और सफेद रक्त कोशिकाओं का भी निर्माण कर रही है। हालांकि अभी भी पूरी तरह सुरक्षा को लेकर अभी भी ज्यादा कुछ नहीं कहा जा सकता है। ब्रिटेन इस वैक्सीन की 100 मिलियन डोज पहले ही ऑर्डर कर चुका है।

ब्रिटेन की ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी ने जो वैक्सीन तैयार किया है इसका शुरुआती ह्यूमन ट्रायल किया जा चुका है और तीसरे चरण का ट्रायल अभी चल रहा है। शुरुआती चरण में इस वैक्सीन का मानवों पर कितना प्रभाव पड़ा इसको लेकर यूनिवर्सिटी डेटा जारी करेगी।आपको बता दें भारत सहित पूरी दुनियाभर में कोरोना को दवाई को बनाने के कोशिश की जा रही है।

https://www.bharatkhabar.com/opd-forms-in-the-name-of-gangster-vikas-dubey/

काफी देश अच्छी स्थिति में नजर आ रहे हैं। कोरोना की दवाई बनाने में इस समय ब्रिटेन, अमेरिका, रूस और चीन सबसे आगे हैं। इन देशों में जिस तरह से कोरोना का लोकेर ट्रायल चल रहा है। उसे देखते हुए उम्मीद की जा रही है कि, बहुत जल्दी कोरोना की दवाई बनकर तैयार हो जाएगी। लेकिन कब तक कोरोना से दुनिया को मुक्ति मिलेगा। इस पर कुछ भी कहना अभी जल्द बाजी होगा।

Related posts

कोरोना के चलते चारधाम यात्रा रद्द, 14 मई से होने वाली थी यात्रा

pratiyush chaubey

सीरिया हमले में बच्चों समेत 80 लोगों की मौत, तस्वीरों में देखें कैसे हुआ था अटैक

rituraj

जवाहर बाग कांडः वकील का दावा- आज भी जिंदा है रामवृक्ष, DNA रिपोर्ट खोल सकती है पोल

Shailendra Singh