lockdown 2 2 corona is back: महाराष्ट्र का हाल बुरा, कहां रद्द हुई परीक्षा?, जाने अन्य राज्यों का हाल

नई दिल्ली: देश में एक बार फिर से कोरोना तेज रफ्तार से बढ़ रहा है। एक महीने के अंदर देश में नए मामलों की संख्या दोगुनी हो गई है। जो पहले 10 से 12 केस सामने आते थे। तो वहीं अब 20 से 25 हजार नए केस रोजाना दर्ज किए जा रहे हैं। इसके पीछे की सबसे बड़ी वजह लापरवाही है। बढ़ते मामलों को लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने भी कहा कि लापरवाही के कारम संक्रमण तेजी से फैल रहा है। हर्षवर्धन ने कहा 80 फीसदी से ज्यादा मामले कुछ ही राज्यों से सामने आ रहे हैं।

बढ़ रहे एक्टिव मरीज

देश में पिछले कुछ दिनों से 25 हजार के आसपास नए मामले दर्ज किए जा रहे हैं। तो वहीं सोमवार को भी 26 हजार से नए के सामने आए थे। जिसके बाद देश में संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर एक करोड़ 13 लाख 85 हजार 339 पहुंच गई है। आंकड़ें बताते हैं कि पिछले करीब ढाई माह बाद सोमवार को सबसे ज्यादा केस दर्ज किए गए हैं। इससे पहले 25 दिसंबर को 26 हजार 624 केस दर्ज किए गए थे। जिसके कारण लगातार एक्टिव मरीजों की संख्या भी बढ़ रही है।

दो लाख के पार एक्टिव मरीज

स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक देश में 2 लाख 19 हजार 262 लोगों को इलाज चल रहा है। जो कि कुल मामलों का 1.93 फीसदी है। इसके अलावा स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि देश में जो मौत हुई है उनमें से करीब 70 फीसदी लोग अन्य बीमारियों से पीड़ित थे।

महाराष्ट्र के आंकड़े डराने वाले

देश में सबसे बुरा हाल महाराष्ट्र का है। वहां जो मामले दर्ज किए जा रहे हैं वो परेशान करने वाले हैं। देश में कुल 2 लाख 19 हजार 262 एक्टिव मामले में हैं। जिसमें से 1 लाख 27 हजार 480 मरीज महाराष्ट्र के ही है। यानी देश के 58 फीसदी मामले सिर्फ महाराष्ट्र से ही हैं। आंकड़े खुद गवाही दे रहे हैं महाराष्ट्र कोरोना से लड़ाई लड़ने में सबसे कमजोर राज्य है। महाराष्ट्र के पांच जिले सबसे ज्यादा प्रभावित हैं। इनमें से पुणे में 25 हाजर 673 नागपुर में 16 हजार 964, ठाणे में 12 हजार 232, मुंबई में 12 हजार 535 और नासिक में 7 हजार 688 एक्टिव मामले हैं। जो कि राज्य सरकार और केंद्र सरकार के लिए चिंता का विषय है।

पंजाब में टलीं परीक्षाएं

बढ़ते कोरोना के मामलों को लेकर पंजाब सरकार ने 10वीं और 12वीं की परीक्षाओं को एक महीने के लिए टालने की घोषणा की है। दअसल पंजाब में हाल के हफ्तों में कोरोना वायरस के मामलों में वृद्धि देखी गई है। पंजाब में रविवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 1,501 नए मामले सामने आए , जिसके साथ ही राज्य में संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 1 लाख 97 हजार 755 तक पहुंच गई।

पीएसईबी द्वारा जारी एक बयान के अनुसार, 10वीं कक्षा की परीक्षाएं अब नौ अप्रैल के बजाय चार मई से शुरू होंगी। 12वीं कक्षा की परीक्षाएं 20 अप्रैल से शुरू होंगी, जो पहले 22 मार्च से शुरू होनी थीं। 10वीं और 12वीं कक्षा की परीक्षाएं 24 मई को समाप्त होंगी। पीएसईबी नियंत्रक (परीक्षा) जनक राज के अनुसार, कक्षा 10 और 12 की तीन घंटे की परीक्षा क्रमशः 10 बजे और दोपहर दो बजे शुरू होगी।

मध्य प्रदेश में नाईट कर्फ्यू की चर्चा

मध्य प्रदेश में भी कोरोना के मामलों में पिछले कुछ दिनों में बढ़ोतरी देखी गई है। एमपी विधानसभा में अब तक 5 विधायक कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं, विधानसभा के 4 मार्शल भी कोरोना की चपेट में आ गए। रविवार को भोपाल में कोरोना के 241 मरीज मिले, जबकि पूरे मध्य प्रदेश में 743 मामले सामने आए। तो इंदौर में भी करीब 300 मामले सामने आए हैं। जिसके बाद इंदौर और भोपाल में नाइट कर्फ्यू लगाने की चर्चा होने लगी।

दिल्ली- लगातार चौथे दिन 400 से अधिक मामले

दिल्ली में सोमवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 368 नए मामले सामने आए जबकि संक्रमण की दर 0.59 फीसदी पर रही। स्वास्थ्य विभाग ने यह जानकारी दी। रविवार को लगातार चौथे दिन रोजाना 400 से अधिक संक्रमण के मामले सामने आए थे। दिल्ली में शनिवार को संक्रमण के 419 जबकि रविवार को 407 नए मामले दर्ज किए गए थे।

शादी के बंधन में बंधे क्रिकेटर जसप्रीत बुमराह, संजना गणेशन संग लिए सात फेरे, शेयर की फोटो

Previous article

कच्ची शराब के खिलाफ पूरे प्रदेश में अभियान, ताबड़तोड़ छापेमारी

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured