डॉक्टरो को कोरोना से बचाने के लिए KGMU का बड़ा फैसला, सभी डॉक्टरों की होगी स्क्रीनिंग

प्रयागराज: जिले में कोरोना बेकाबू रफ्तार से बढ़ रहा है। मंगलवार को जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों के मिलने की संख्या एक हजार को पार कर गई। मंगलवार को जारी आंकड़ों के अनुसार जिले में 1084 संक्रमित मिले हैं।

वहीं इसके अतिरिक्त 3 लोगों की कोरोना वायरस की वजह से मौत भी हुई है। इससे पहले सोमवार को भी जिले में 652 संक्रमित मिले थे। कोरोना संक्रमतों की यह संख्या लोगों के साथ ही प्रशासन को भी परेशान करने वाली है क्योंकि तमाम प्रयासों के बाद भी लोग कोरोना की गाइडलाइन्स का कड़ाई से पालन नहीं कर रहे हैं।

खौफ में डाल रहे ताजा आंकड़े

वहीं कल का दिन यानि मंगलवार लोगों को खौफ में डालने वाला साबित हुआ जिले में सिर्फ एक दिन में 1084 कोरोना संक्रमित मरीज मिलने से हड़कंप मच गया है। यह आंकड़ा कोरोना की शुरुआत से लेकर अब तक का 1 दिन में संक्रमितों के मिलने का सबसे बड़ा आंकड़ा है।

पिछले साल पूरे कोरोना काल के दौरान संक्रमित मिलने की अधिकतम संख्या पांच सौ का नंबर भी पार कर सकी थी, लेकिन पिछले दो दिनों में जिले में कोरोना संक्रमितों के मिलने का आंकड़ा तेजी से बढ़ा है।

तेजी से बढ़ रहा है संक्रमण

बहुत तेज गति से कोरोना का संक्रमण बढ़ रहा है। मंगलवार को जिले में 8363 लोगों की जांच की गई थी जिसके बाद 1084 लोग संक्रमित पाए गए। इसके साथ ही एसआरएन कोविड एल 3 हॉस्पिटल में भर्ती गंभीर मरीजों की संख्या 202 तक पहुंच गई है।

जबकि टीबी सप्रू कोविड एल 2 हॉस्पिटल में भी 59 मरीज भर्ती हो चुके हैं। वहीं कोविड एल 3 हॉस्पिटल से 20 मरीज स्वस्थ होने पर डिस्चार्ज किए गए , जबकि 44 संक्रमितों का होम आइसोलेशन पूरा हुआ है।

टीकाकरण की बढ़ाई जा रही रफ्तार

केस बढ़ने के साथ टीकाकरण की संख्या को भी बढ़ा दिया गया। जिले में कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है तो वहीं दूसरी तरफ कोविड वैक्सीन लगवाने वालों की संख्या में भी तेजी आ रही है। जिले में मंगलवार को 98 स्थानों पर 11,291 लोगों ने कोविड वैक्सीन की पहली डोज़ लगवायी है।

इसमें 9764 लोगों ने कोविड वैक्सीन की प्रथम दवाई सरकारी अस्पतालों में लगवाई है जबकि निजी हॉस्पिटल में भी 478 लोगों को वैक्सीन लगाई गई है। इसके साथ ही 1049 लोगों को कोविड वैक्सीन की दूसरी डोज दी गई ।

इलाहाबाद हाईकोर्ट गंभीर

वहीं इसके साथ ही यूपी में बढ़ रहे कोविड के केस को देखते हुए इलाहबाद हाईकोर्ट ने गंभीर चिंता जताते हुए कहा है कि राज्य सरकार नाइट कर्फ्यू लगाने के फैसले पर विचार  करें। इसके साथ ही कोर्ट ने 45 साल से कम आयु वालों को भी वैक्सीन लगाने पर विचार करने को कहा है।  कोर्ट में इस मामले की सुनवाई अब 8 अप्रैल को होगी।

कांग्रेस ने जिला पंचायत सदस्य प्रत्याशियों की जारी की सूची, जानिए किसे मिला टिकट

Previous article

यूपी : कोरोना के छह हजार से ज्‍यादा नए मामले मिले

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured