ahmedabad 1 अहमदाबाद में कोरोना कर्फ्यू के एलान से लोगों में खौफ, बाजारों में उमड़ी भीड़

गुजरात के अहमदाबाद में कोरोना वायरस का संक्रमण बेकाबू होता जा रहा है. जिस पर काबू पाने के लिए आज रात से 57 घंटे का वीकेंड कर्फ्यू लगाने का फैसला किया गया है. मौजूदा हालात में गुजरात सरकार ने 23 नवंबर से स्कूल-कॉलेज खोलने के फैसले पर भी रोक लगा दी है.

गुजरात सरकार ने 20 नवंबर से 23 नवंबर तक अहमदाबाद में कंप्लीट कर्फ्यू लगाने का आदेश जारी कर दिया है. कर्फ्यू 20 नवंबर की रात 9 बजे से शुरू होकर 23 नवंबर की सुबह 6 बजे तक लागू रहेगी. इस दौरान केवल दूध और दवा की दुकानें खुली रहेंगी. राज्य सरकार ने 23 नवंबर से स्कूल-कॉलेज खोलने के अपने पुराने आदेश को भी रद्द कर दिया है. सरकार ने कहा कि कोविड के मौजूदा हालात को देखते हुए फिलहाल स्कूल-कॉलेज बंद ही रहेंगे.

जब से इस कर्फ्यू का एलान हुआ है तब से ही लोगों में भी खौफ बढ़ गया है और लोग दुकानों और बाजारों में सामान लेने के लिये पहुंच रहे हैं. बाजारों में लोगों की भीड़ देखी जा रही है.

इस आदेश को लेकर दुकानदारों का कहना है कि हर कोई कोरोना मानदंड का पालन कर रहा था लेकिन दीवाली के कारण, भीड़ अधिक होने से और लोग सामाजिक दूरी बनाए रखने में सक्षम नहीं थे.

हर चौक-चौराहे पर पुलिस के जवान तैनात हैं. पुराने शहर के इलाकों में केंद्रीय अर्धसैनिक बलों के जवान तैनात हैं. ये नजारा ये बताने के लिए काफी है कि अहमदाबाद में हालात लगातार गंभीर होते जा रहे हैं. जिस शहर में 20 मार्च को पहली बार कोरोना की आहट सुनाई पड़ी थी और 25 मार्च को कोरोना से पहली मौत हुई थी, उस शहर में मौत का आंकड़ा आज तीन सौ को पार कर गया.

बता दें गुजरात में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना वायरस के 1,340 नए मामले सामने आ चुके हैं. इसके साथ ही राज्य में संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर गुरुवार तक 1,92,982 हो चुकी थी. स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी विज्ञप्ति के अनुसार राज्य में सात और मरीजों की मौत होने से मृतकों की कुल संख्या बढ़कर 3,830 हो गयी है.

भारत में दो दिन चलेगा नेटफ्लिक्स का स्ट्रीम फेस्ट, जानिए क्यों हैं यूजर्स के लिए खास

Previous article

मुंबई में अभी नहीं खुल रहे स्कूल, BMC ने जारी किये आदेश

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured