उपभोक्‍ता मंत्री ने उपभोक्‍ता मामलों के विभाग के सदस्‍यों को हिंदी पखवाड़ा पुरस्‍कार प्रदान किए

केन्‍द्रीय उपभोक्‍ता मामले और खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री रामविलास पासवान ने मंगलवार को नई दिल्‍ली में उपभोक्‍ता मामलों के विभाग के पदाधिकारियों एवं स्‍टाफ सदस्‍यों को हिंदी पखवाड़ा पुरस्‍कार प्रदान किए। 89 स्‍टाफ सदस्‍यों ने हिंदी पखवाड़े में भाग लिया। गौरतलब है कि यह संख्‍या इस विभाग के कुल कार्य बल के आधे से भी अधिक है।

 

केन्‍द्रीय उपभोक्‍ता मंत्री- रामविलास पासवान

 

इसे भी पढे़ःरामविलास पासवान ने कहा पीएम SC/ST कानून पर अध्यादेश लाने को सहमत

पासवान ने इस मौके पर अंग्रेजी एवं हिंदी में अनुवाद के लिए एक ‘शब्‍दकोश’ पुस्तिका का विमोचन भी किया। जो पदाधिकारियों को एक तैयार सामग्री उपलब्‍ध कराएगी। पुस्तक से आधिकारिक या सरकारी स्‍तर पर संप्रेषण के एक माध्‍यम के रूप में हिंदी का उपयोग करने में सहायक होगी।

इस अवसर पर रामविलास पासवान ने समस्‍त विजेताओं को बधाई दी। इसके साथ ही उन्‍होंने इस बात पर विशेष जोर दिया कि हिंदी में बोलने या बातें करने के साथ-साथ दैनिक जीवन में हिंदी में लेखन की आदत भी लोगों में होनी चाहिए। रामविलास पासवान ने हिंदी के उपयोग का प्रचार-प्रसार करने और यहां तक कि अंतर्राष्‍ट्रीय मंचों पर भी हिंदी में बोलने की प्रथा को बढ़ावा देने के लिए राष्‍ट्रपति, उपराष्‍ट्रपति, प्रधानमंत्री और विदेश मंत्री की प्रशंसा की।

रामविलास पासवान ने कहा कि हिंदी को सरल रूप का इस्तेमाल किया जाना चाहिए। जिससे आम आदमी को समझने में आसानी होती है। पासवान ने एक ऐसा छोटा पुस्‍तकालय खोलने का भी प्रस्‍ताव रखा। जहां हिंदी में लिखी पुस्‍तकों को संजोकर रखा जाएगा। इससे प्राचीन साहित्‍य के संरक्षण में मदद मिलेगी।

महेश कुमार यादव