रायबरेलीः सीएम योगी के मुरीद हुए कांग्रेस विधायक, कहा- हिंदू विरोधी है मेरी पार्टी

रायबरेलीः उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के मद्देनजर जहां एक ओर कांग्रेस पार्टी (Congress) सरकार के खिलाफ हर स्तर से मोर्चा खोलने में जुटी हुई है, वहीं, त्रिस्तरीय चुनाव में सबसे बुरी स्थिति में पहुंची कांग्रेस में अब बगावत के सुर भूटने लगे है। रायबरेली को कांग्रेस का गढ़ माना जाता है, लेकिन इस बार वहां भी सीटें कांग्रेस नहीं बचा पाई।

यूपी की 852 सीटों में से 600 से अधिक ब्लॉक प्रमुख की सीटें जीतने वाली भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने रायबरेली में भी 18 में से 11 सीटें अपने नाम कर ली है।

पंचवटी परिवार ने बिना कांग्रेस का कोई अस्तित्व नहीं- राकेश सिंह

ताजा मामला रायबरेली का है, जहां हरचंदपुर से कांग्रेस विधायक राकेश सिंह (Rakesh Singh) ने अपनी ही पार्टी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। मीडिया से बात करते हुए कहा उन्होंने कहा कि रायबरेली में कांग्रेस बिना पंचवटी परिवारी की मदद से चुनाव नहीं जीत सकती। पंचवटी परिवार से दूरी के कारण ही रायबरेली में उसे जीत नहीं नसीब हुई। कांग्रेस को लगता था कि यहां वो अपने दम पर जीतती है, लेकिन उसकी ये गलतफहमी दूर हो गई।

सीएम योगी की तारीफ

राकेश सिंह ने कहा कि कांग्रेस पार्टी सिर्फ मुस्लिम परस्त राजनीति करती है, जो हमें बिल्कुल पसंद नहीं है। भारतीय जनता पार्टी (BJP) की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि इस पार्टी में काफी अच्छे नेता है। कांग्रेस नेता ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) से वह जो भी काम अपने क्षेत्र में कराने के लिए कहते हैं वह कर देते हैं। राकेश सिंह ने कहा कि कांग्रेस विधायक होने के बावजूद अगर मैं कोई अच्छा काम करता हूं तो मेरी पार्टी मुझसे नाराज हो जाती है।

हिंदू विरोधी है कांग्रेस

मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि अगर मैं कोई पूजा-पाठ करता हूं या कराता हूं तो मेरी पार्टी ये सब कराने से रोकती है। कांग्रेस की नीति ही रही है कि कोई अच्छा काम न हो। ये पार्टी शत प्रतिशत हिंदू विरोधी पार्टी है। राकेश ने कहा कि मैं पार्टी छोड़ नहीं रहा हूं, बस अगाह कर रहा हूं कि अगर पार्टी 85 फीसदी को छोड़कर सिर्फ 15 फीसदी पर चलती रही तो कई नेता पार्टी छोड़ देंगे।

पंचवटी परिवार के बदौलत है कांग्रेस

बता दें कि पंचवटी परिवार मे दिनेश प्रताप सिंह, उनके भाई राकेश प्रताप सिंह और अन्य नेता शामिल हैं। राकेश और अदिति कांग्रेस के बागी विधायक हैं। दिनेश प्रताप सिंह ने साल 2019 में सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) के खिलाफ लोकसभा चुनाव लड़े थे। राकेश सिंह ने कहा कि रायबरेली में कांग्रेस पंचवटी परिवार के बदौलत है, पंचवटी परिवार कांग्रेस की बदौलत नहीं है।

सोते समय आपके पैरों में होता है दर्द? अपनाएं ये तरीके मिलेगा आराम

Previous article

ब्लॉक प्रमुख चुनाव में हिंसा के बाद पुलिस का एक्शन, सपा ने किया पलटवार

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured