7 मुनव्वर राणा के समर्थन में उतरी कांग्रेस, प्रवक्ता ने कही ये बात

लखनऊ। मशहूर शायर मुनव्वर राणा ने एक विवादित बयान देते हुए कहा है कि अगर यूपी में ओवैशी की मदद से एक बार फिर योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री बनते हैं तो वे यूपी छोड़ देंगे। उनके इस बयान पर सियासी घमासान मचा हुआ है। सोशल मीडिया पर मुनव्वर राणा की खूब आलोचना हो रही है। लेकिन, इस बीच कांग्रेस ने उनके इस बयान का समर्थन किया है।

कांग्रेस के प्रवक्ता अंशू अवस्थी ने कहा है कि शायर मुनव्वर राणा ने जो योगी आदित्यनाथ को लेकर चिंता व्यक्त की है, वो पूरे प्रदेश के लोगों की चिंता है। उन्होंने कहा कि सीएम योगी आदित्यानाथ प्रदेश के लोगों का भला कर ही नहीं सकते। ऐसे में लोगों का रोष बढ़ना स्वाभाविक है।

अंशू अवस्थी ने कहा कि मुनव्वर राणा का दर्द इकलौता उनका नहीं है। बल्कि यह यूपी की 24 करोड़ की आबादी की तकलीफ है। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा सरकार और उनके मुखिया सत्ता में बैठने के बाद जनकल्याण और विकास करने के बजाय सिर्फ धर्म और जाति की राजनीति कर रहे हैं। लोगों को बांट कर असल मुद्दों से ध्यान भटका रहे हैं।

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि ऐसे व्यक्ति से अगर प्रदेश के लोग नफरत नहीं करेंगे तो क्या करेंगे। जिस भाजपा सरकार और उनके मुखिया आदित्यनाथ को उत्तर प्रदेश के नौजवानों के रोजगार को लेकर कोई चिंता नहीं, उत्तर प्रदेश में किसानों को लेकर कोई चिंता नहीं, उत्तर प्रदेश में महिलाओं के सम्मान को लेकर कोई चिंता नहीं, उसको लेकर जनता त्रस्त नहीं होगी तो क्या होगी।

अंशू अवस्थी ने कहा कि प्रदेश में अपराध लगातार बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि प्रियंका गांधी जब प्रदेश के नौजवानों के रोजगार पर सवाल करती हैं, किसानों और महिलाओं के सम्मान और अधिकार की बात करती हैं तो मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सांप सूंघ जाता है।

वह तुरंत धर्म और जाति की राजनीति पर उतर जाते हैं। प्रदेश के नौजवान में किसान और महिलाएं ऐसे मुख्यमंत्री से आक्रोशित हैं, और इसका असर 2022 के चुनाव में दिखेगा। उन्होंने दावा किया कि बीजेपी का सफाया होगा और कांग्रेस सरकार प्रियंका गांधी के नेतृत्व में बनेगी।

अल्मोड़ा: मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी, जिला प्रशासन ने आपदा से निपटने के दिए निर्देश

Previous article

लखनऊ में 25 जुलाई से शुरू हो रही फुटबॉल लीग, 46 टीमें लेंगी हिस्सा

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.