September 22, 2021 7:24 am
featured देश

राफेल और सुखोई का कॉम्बिनेशन होगा दुश्मनों के लिए घातक साबित: एयर चीफ भदौरिया

राफेल विमान डील पर 'डासो' का 'रिलायंस डिफेंस' को ऑफसेट पार्टनर बनाना मजबूरी था.. ?

29 जुलाई को बहुचर्चित लड़ाकू विमान राफेल की पहली खेप भारत पहुंचने वाली है। इस विमान की जितनी तारीफ की जाए उतनी कम है।

नई दिल्ली। 29 जुलाई को बहुचर्चित लड़ाकू विमान राफेल की पहली खेप भारत पहुंचने वाली है। इस विमान की जितनी तारीफ की जाए उतनी कम है। क्योंकि भारतीय वायुसेना में शामिल होते ही भारत की ताकत दो गुनी हो जाएगी। ये विमान विवादों में भी रहा क्योंकि विपक्ष ने इन विमानों को लेकर मोदी सरकार पर कई बार ज़ुबानी हमले किए हैं। ये विमान फ्रांस से आंबला आ रहे हैं और इनको आधिकारिक तौर पर इन्हें भारतीय वायुसेना में शामिल किया जाएगा।

बता दें कि जिस वक्त बालकोट में सेना ने आतंक के ठिकानों पर हमला किया था तो उस वक्त इन विमानों की कमी भारत को  काफी महसूस हुई थी। भारत और फ्रांस के संयुक्त युद्धाभ्यास गरुण-6 के बाद तत्कालीन वाइस एयर चीफ आरकेएस भदौरिया (वर्तमान एयर चीफ मार्शल) ने दुश्मनों को सुखोई और राफेल की घातक प्रहार क्षमता को लेकर चेताया था। उन्होंने कहा था कि सुखोई के मुकाबले राफेल भी काफी घातक है जिसका मुकाबला करना बहुत मुश्किल है।

https://www.bharatkhabar.com/indias-campaign-is-bringing-color-in-jadhav-case/

बेहद घातक कॉम्बिनेशन

उन्होंने कहा था कि जिस वक्त राफोल और सुखोई एक साथ ऑपेट किए जाएंगे उस वक्त किसी भी दुश्मन के लिए इनको झेल पाना बहुत मुश्किल होगा। ये कॉम्बिनेशन दुश्मन के लिए बहुत घातक साबित होगा। जिस वकेत साल 2016 में फ्रांस से राफेल जेट को लेकर बात हुई थी उस वक्त भी  आरकेएस भदौरिया भारतीय टीम की ओर से हेड थे। उस वक्त भी भदौरिया ने राफेल और सुखोई के कॉम्बिनेशन को घातक कहा था।

पीएम ने भी राफेल की जरूरत पर दिया था जोर

पीएम मोदी ने भी कहा था कि अगर बालाकोट के वक्त हमारे पास राफेल विमान होते तो हम और ज्यादा आतंक के ठिकानों को तबाह कर पाते। 2019 में होने वाले चुनाव में पीएम मोदी ने कहा  था कि पूरा देश इस वक्त राफेल जेट की कमी को महसूस कर रहा है। अगर देश में राफेल आ गया तो ये अत्याधिक तकनीकी से लैस लड़ाकू विमान भारतीय वायुसेना में शामिल हुआ तो ये भारत की सेना की ताकत को और ज्यादा बढ़ा सकता है। इसकी क्षमता के कारण राफेल को वायुसेना का ब्रह्मास्त्र भी कहा जा रहा है।

Related posts

मणिपुर में सड़क दुर्घटना में 10 लोगों की मौत

Anuradha Singh

केंद्रीय मंत्री पासवान की स्थिति में सुधार, जल्द मिलेगी छुट्टी

Rahul srivastava

इन टिप्स से आपके लिप्स को मिलेगा नैचुरल कलर

rituraj