सीएम की पहली पंसद बने कर्मजीत सिंह रिंटू, सौंपा गया अमृतसर का मेयर पद

अमृतसर। पंजाब की धर्म नगरी अमृतसर को कर्मजीत सिंह रिंटू के रूप में उसका नया मेयर मिल गया है। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने उनके नाम का एलान किया और साथ ही रमण बख्शी को सीनियर डिप्टी मेयर बनाया और डिप्टी मेयर के लिए युनुस कुमार के नाम का ऐलान किया। इसके अलावा नगर निगम के कुल 85 पार्षदों में से 68 पार्षदों ने शपथ ली और 17 पार्षदों ने मेयर चुनाव समारोह से बायकॉट कर लिया। ये पार्षद निकाय मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के समर्थक हैं, अधिकांश ऐसे पार्षद हैं जो सिद्धू के बीजेपी से कांग्रेस में आने के साथ ही भाजपा-अकाली दल का दामन छोड़कर आए थे।

आपको बता दें कि रिंटू मुख्यमंत्री के काफी करीबी माने जाते हैं और वो उनकी पहली पंसद भी थे। सीनियर डिप्टी मेयर रमण बख्शी को बनाया गया। इनके नाम पर किसी विधायक ने विरोध नहीं किया, लेकिन विधायक सुनील दत्ता चाहते थे कि जब 50 प्रतिशत निगम चुनाव में महिला कोटा है तो कम से कम महिला सीनियर डिप्टी मेयर बने। वे अपनी भाभी ममता दत्ता को सीनियर डिप्टी मेयर बनाने के इच्छुक थे।

डिप्टी मेयर का पद विधायक राजकुमार अपने विधानसभा क्षेत्र के दलित नेता प्रमोद बबला के लिए चाहते थे, लेकिन उनकी ये इच्छा पूरी न हो सकी। हालांकि डॉ. राजकुमार ने सैकड़ों के हुजूम की चुनावी रैली में वादा किया था कि प्रमोद बबला को डिप्टी मेयर बनाया जाएगा। नगर निगम के चौथे हाउस के पार्षदों को मंगलवार सुबह शपथ ग्रहण कराई गई। वरिष्ठ कांग्रेसी नेता संजीव शर्मा बिट्टू को पांचवां मेयर चुना गया। योगिंदर सिंह योगी को सीनियर डिप्टी मेयर और विनती संगर डिप्टी मेयर चुनी गईं। कांग्रेस के सभी 59 पार्षदों की सर्वसम्मति से चुनाव किया।