सीएम रावत ने केन्द्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान से दूरभाष पर वार्ता की

देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने समाचार पत्रों में ओएनजीसी मुख्यालय के दिल्ली शिफ्ट होने सम्बंधी खबर पर मंगलवार को केन्द्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान से दूरभाष पर वार्ता की। प्रधान ने मुख्यमंत्री को अवगत कराया कि ओएनजीसी मुख्यालय को दिल्ली शिफ्ट करने की कोई योजना नहीं है। उन्होंने यह भी बताया कि ओएनजीसी के परमानेंट अकाउंट नंबर को भी उत्तराखण्ड से दिल्ली शिफ्ट नहीं किया जाएगा। धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि ओएनजीसी का उत्तराखण्ड से बहुत पुराना और मजबूत सम्बंध है। ओएनजीसी और उत्तराखण्ड दोनों ही एक दूसरे के हितों के पूरक हैं और इस प्रकार की कोई भी कार्यवाही नहीं की जाएगी जिससे उत्तराखण्ड को कोई प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष हानि होती हो।

बता दें कि केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत से दूरभाष पर वार्ता की। उन्होंने राज्य में वर्षा एवं तूफान जनित स्थितियों की जानकारी प्राप्त की। राजनाथ सिंह ने मुख्यमंत्री को आश्वस्त किया कि केन्द्र सरकार किसी भी आकस्मिक परिस्थिति में हर प्रकार की सहायता उपलब्ध कराने के लिए तैयार है। एनडीआरएफ की टीमों को हर परिस्थिति से निपटने के लिए तैयार रहने के निर्देश दिए गए हैं।

वहीं मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने केन्द्रीय मंत्री को धन्यवाद करते हुए अवगत कराया कि राज्य सरकार ने भी मौसम विभाग की चेतावनी को ध्यान में रखते हुए सभी आवश्यक कदम उठाए हैं। आपदा प्रबंधन विभाग और सभी जिलाधिकारी लगातार सुरक्षात्मक उपायों की समीक्षा कर रहे हैं। प्रदेश में एसडीआरएफ की सभी टीमें फुल अलर्ट पर हैं। मुख्यमंत्री स्वयं स्थिति पर नजर रखे हुए हैं।