सीएम रावत ने किया दुर्गा मल्ल राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय का लोकार्पण

देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने बीते बुधवार को शहीद दुर्गा मल्ल राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय,डोईवाला में शौर्य दीवार एवं ई-लाईब्रेरी का लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि देश के लिए बलिदान देने वाले वीर जवानों की याद में महाविद्यालयों में शौर्य दीवारों का निर्माण किया गया है। ई-लाइब्रेरी की स्थापना प्रधानमंत्री की डिजिटल इंडिया की परिकल्पना की दिशा में प्रयास है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आवश्यकतानुसार महाविद्यालय में स्नातकोत्तर कक्षाओं में विज्ञान एवं कामर्स संकाय की व्यवस्था की जायेगी परन्तु इसके लिए छात्र संख्या ठीक होना जरूरी है।

बता दें कि शिक्षकों एवं छात्रों का अनुपात सही करने का प्रयास किया जायेगा। उन्होंने कहा कि शिक्षा व्यवस्था के सुधार के लिए शिक्षकों और छात्रों के बीच तालमेल जरूरी है। विधानसभा अध्यक्ष श्री प्रेमचन्द अग्रवाल ने कहा कि देवभूमि उत्तराखण्ड वीरों की भूमि के रूप में जाना जाता है। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड के वीरों की स्मृति में महाविद्यालय में शौर्य दीवार का निर्माण किया गया है। उच्च शिक्षा राज्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने कहा कि राज्य सरकार ने पिछले 11 माह में उच्च शिक्षा के क्षेत्र में ऐतिहासिक कदम उठाये हैं।

वहीं 118 महाविद्यालयों में ये 108 महाविद्यालयों में शौर्य दीवार का उद्घाटन हो चुका है। प्रत्येक सत्र में 180 दिन की अनिवार्य पढ़ाई और ड्रेस कोड लागू होने से पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष छात्र उपस्थिति 52 प्रतिशत से बढ़कर 72 प्रतिशत हुई है। उन्होंने कहा कि परीक्षा परिणाम परीक्षा के 30 दिन में घोषित किये जायेंगे। इस अवसर पर विधायक श्री सुरेन्द्र सिंह जीना, भाजपा के जिलाध्यक्ष श्री शमशेर सिंह पुण्डीर, शहीद दुर्गा मल्ल राजकीय स्नात्कोत्तर महाविद्यालय के प्रधानाचार्य डाॅ एम.सी नैनवाल एवं महाविद्यालय के प्राध्यापक एवं छात्र-छात्राएं उपस्थित थे।