1f7d4c33 22f9 4d00 a395 1aeb65f4b746 श्रद्धालु कोविड-19 टेस्ट के बाद ही कर पाएंगे गंगा स्नान, सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने बैठक कर कुंभ मेले की व्यवस्था के दिए सख्त निर्देश
फाइल फोटो

उत्तराखंड। ये तो सब को पता है कि कोरोना से पूरे देश को अपनी चपेट में ले लिया है। जिसके चलते आए दिन कोरोना के केस बढ़ते ही जा रहे हैं। जानकारी के मुताबिक 2021 में उत्तराखंड के हरिद्वार में कुंभ मेले का आयोजन होने जा रहा है। जिसको लेकर राज्य सरकार पहले से ही सख्त हो गई है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि कुंभ मेले के दौरान ऐसी व्यवस्था हो कि श्रद्धालु कोविड-19 टेस्ट के बाद ही गंगा स्नान के लिए आएं। इसके साथ ही उन्होंने मेले में आने वाले लोगों के पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन, थर्मल स्क्रीनिंग और एंटीजन टेस्टिंग की पूरी व्यवस्था करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री सचिवालय में कोविड-19 महामारी के दृष्टिगत कुंभ मेले की स्वास्थ्य व सुरक्षा से संबंधित व्यवस्थाओं की समीक्षा बैठक कर रहे थे। कुंभ मेला के मेला अधिकारी, हरिद्वार के डीएम व एसएसपी भी वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक में शामिल हुए।

ये अधिकारी बैठक में रहे मौजूद-

बता दें कि मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मेले में आने वाले लोगों के पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन, थर्मल स्क्रीनिंग और एंटीजन टेस्टिंग की पूरी व्यवस्था करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि कुंभ में आने वाले श्रद्धालुओं को सुरक्षित ढंग से गंगा स्नान की व्यवस्था का दायित्व हम सबका है। इसके लिए सभी संबंधित विभाग आपसी समन्वय से कार्य करें। इस संबंध में परिस्थिति के अनुकूल यथासमय एडवाइजरी जारी करने की व्यवस्था की जाए। बैठक में सचिव स्वास्थ्य अमित नेगी ने मेला अधिकारी व डीएम को आवश्यक व्यवस्थाओं की कार्ययोजना उपलब्ध कराने को कहा। उन्होंने कहा कि व्यवस्थाओं को लागू करने के लिए आवश्यक धनराशि की व्यवस्था की जाएगी। पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने कहा कि कुंभ मेले से संबंधित सुरक्षा व्यवस्था क्राउड मैनेजमेंट आदि की कार्ययोजना तैयार की जा रही है। बैठक में मुख्य सचिव ओम प्रकाश, सचिव नीतेश झा, शैलेश बगोली, प्रभारी सचिव डॉ. पंकज कुमार पांडेय, एसए मुरुगेशन, विशेष सचिव मुख्यमंत्री डॉ. पराग मधुकर धकाते सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

1000 बिस्तर वाले कोविड-19 अस्पताल के निर्माण में तेजी-

उन्होंने श्रद्धालुओं की संख्या के नियंत्रण की भी कार्ययोजना बनाने को कहा। उन्होंने इसके लिए दूसरे राज्यों से भी विचार विमर्श करने का सुझाव दिया। उन्होंने पुलिस महानिदेशक से भीड़ नियंत्रण आदि के लिए कन्टिजेंट प्लान तैयार करने पर ध्यान देने को कहा। मुख्यमंत्री ने हरिद्वार में 1000 बिस्तर वाले कोविड-19 अस्पताल के निर्माण में तेजी लाने के निर्देश दिए। साथ ही जिले के अस्पतालों में भी इलाज की समुचित व्यवस्था बनाने को कहा। उन्होंने निर्देश दिए कि आश्रमों के संचालकों, संत महात्माओं का भी जागरुकता में सहयोग लिया जाए।

 

 

 

 

 

Trinath Mishra
Trinath Mishra is Sub-Editor of www.bharatkhabar.com and have working experience of more than 5 Years in Media. He is a Journalist that covers National news stories and big events also.

CORONA VACCINE- ‘कोरोना के खिलाफ 90% तक कारगर ऑक्सफोर्ड का टीका’

Previous article

90 हजार किलोमीटर की रफ्तार से धरती की ओर बढ़ रहा बुर्ज खलीफा जितना बड़ा उल्कापिंड, नासा ने किया कंफर्म

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.