nitish kumar सीएम नीतीश कुमार ने किया बौद्ध महोत्सव 2020 का उदघाटन, बोधगया को प्रतिष्ठित पर्यटन स्थल बनाने के लिए दिए निर्देश

पटना। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बौद्ध महोत्सव 2020 का उदघाटन करने के साथ बोधगया को प्रतिष्ठित पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने के लिए आवश्यक दिशा—निर्देश दिए। बोधगया के कालचक्र मैदान में बौद्ध महोत्सव 2020 का आगाज नीतीश कुमार ने ‘बुद्धं शरणं गच्छामि, धम्मं शरणं गच्छामि, संघं शरणं गच्छामि’ के उच्चारण के साथ किया। उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि बौद्ध महोत्सव में अनेक देशों के लोग शामिल हो रहे हैं और महाबोधि मंदिर के विकास का काम काफी तेजी से हो रहा है। 2013 में मंदिर पर हमला करने का प्रयास किया गया। इसके बाद सुरक्षा व्यवस्था भी बढ़ाई गई। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने अनेक पर्यटक स्थलों के विकास के लिए योजना स्वीकृत की हैं। इसमें बोधगया का भी चयन किया गया है।

बता दें कि उन्होंने कहा कि बोधगया के विकास के लिए महाबोधि सांस्कृतिक केंद्र का निर्माण कराया जा रहा है। उसके समीप 100 कमरों का अतिथि गृह बनाने का निर्णय लिया गया है ताकि देश-विदेश से आने वाले लोगों को रहने की व्यवस्था सुलभ हो सके। नीतीश ने कहा कि भगवान बुद्ध की स्मृति में पटना में बुद्धा स्मृति पार्क की स्थापना की गई है। वहां म्यूजियम और विपष्यना केंद्र की स्थापना की गई है। उन्होंने कहा कि वैशाली में भगवान बुद्ध के अवशेष मिले हैं, जिन्हें पटना म्यूजियम में रखा गया है। बुद्ध सम्यक दर्शन संग्रहालय में उसे स्थापित किया जाएगा।

वहीं इस संग्रहालय का निर्माण पत्थरों से किया जा रहा है ताकि वह लंबे समय तक सुरक्षित रहें। इस मौके पर देश-विदेश से आये कलाकारों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम में अपनी प्रस्तुति दी। बौद्ध महोत्सव को उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, शिक्षा मंत्री सह गया जिले के प्रभारी मंत्री कृष्णनंदन प्रसाद वर्मा, कृषि एवं पशु मत्स्य संसाधन मंत्री प्रेम कुमार, पर्यटन मंत्री कृष्ण कुमार ऋषि एवं गया के जिलाधिकारी अभिषेक कुमार ने भी संबोधित किया। इससे पूर्व मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में महाबोधि मंदिर एवं बोधगया के विकास कार्यों से संबंधित समीक्षा बैठक हुई।

Rani Naqvi
Rani Naqvi is a Journalist and Working with www.bharatkhabar.com, She is dedicated to Digital Media and working for real journalism.

    आतंकी हरमीत सिंह पीएचडी की मौत के बाद भारत में केंद्र और स्टेट इंटेलिजेंस अलर्ट

    Previous article

    मध्य प्रदेश में कमलनाथ सरकार द्वारा शहरी बेरोजगारों के लिए शुरू की गई ‘मुख्यमंत्री युवा स्वाभिमान योजना’

    Next article

    You may also like

    Comments

    Comments are closed.

    More in featured