featured दुनिया

नेपाल के पीएम की कुर्सी बचा लेगी ये चीनी गुड़िया ?

kp oli 1 नेपाल के पीएम की कुर्सी बचा लेगी ये चीनी गुड़िया ?

नेपाल की सियासत में इस समय भूचाल आया हुई है। जिसकी वजह से नेपाल में राजनैतिक उथल-पुथल मची हुई है। लाख कोशिशों के बाद भी नेपाल के प्रधानमंत्री केपी ओली शर्मा अपनी कुर्सी पर लटक रही तलवार से बचने में नाकाम होते दिख रहे हैं। इस बीच बड़ी खबर आयी है कि, नेपाल के प्रधानमंत्री केपी ओली को चीन की राजदूत का साथ मिल गया है। और उन्होंने पीएम ओली को बचाने के लिए अपनी पूरी ताकत झोंक दी है।

yanki 1 नेपाल के पीएम की कुर्सी बचा लेगी ये चीनी गुड़िया ?
केपी शर्मा ओली को बचाने के लिए चीनी राजदूत हाओ यांकी ने अभियान छेड़ दिया है। इससे नेपाल के अंदर ही उनका जोरदार विरोध शुरू हो गया है। चीनी राजदूत के इस कदम को नेपाल की आंतरिक राजनीति में हस्‍तक्षेप माना जा रहा है और कई पूर्व राजनयिकों और राजनेताओं ने इस पर कड़ी आपत्ति जताई है।

आपको बता दें, 3 जून को चीनी राजदूत ने राष्‍ट्रपति बिद्या भंडारी से ‘शिष्‍टाचार’ मुलाकात की। इस मुलाकात के बाद चीनी राजदूत और ज्‍यादा सवालों के घेरे में आ गईं। यही नहीं नेपाली विदेश मंत्रालय ने भी कहा कि चीनी राजदूत के मामले में राष्‍ट्रपति राजनयिक आचार संहिता का उल्‍लंघन कर रही हैं। नेपाली राष्‍ट्रपति इन दिनों खुद ही अपनी पार्टी में विवादों में चल रही हैं। विद्या भंडारी को प्रचंड बनाम ओली की इस लड़ाई में ओली का समर्थक माना जाता है।

गुरुवार को पीएम ओली से मुलाकात के बाद राष्‍ट्रपति ने संसद का बजट सत्र ही खत्‍म कर दिया। यही नहीं ओली अपने विरोधियों के खिलाफ लड़ाई की मुद्रा में आ गए। इस बीच नेपाल के राष्ट्रपति और चीन की राजदूत के बीच क्या बातचीत हुई है। किसी को नहीं पता। जिसको लेकर नेपाल में काफी चर्चा हो रही है।

ये भी माना जा रहा है कि इस समय नेपाल का जो भारत विरोधी रवैया है, उसके पीछे इन्हीं मोहतरमा का हाथ है। अब जबकि नेपाल में केपी शर्मा ओली की सरकार खतरे में है तब भी माना जा रहा है कि वो फिर से सक्रिय हो गईं हैं।कुछ लोग ये भी कह रहे हैं कि चाइनीज राजदूत एक तरह से नेपाल में एक समानांतर सरकार चला रही हैं।

https://www.bharatkhabar.com/msdhoni-birthday-wishes/
जिस तरह से हाओ यांगी की सक्रिता केपी ओली की सरकार बचाने के लिए देखने को मिल रही है। उससे सवाल उठने लगे हैं कि, क्या चीन की खूबसूरत राजदूत हाओ यांगी केपी ओली की सरकार बचा लेंगी। आपको बता दें केपी ओली और हांगी के रिश्तों को लेकर भी कई तरह की चर्चाएं हैं।

Related posts

कांग्रेस की लड़ाई राजनीतिक दलों से नहीं, भ्रष्टाचार से है : बब्बर

bharatkhabar

वाराणसी जाएंगे अखिलेश यादव, बाबा काशी विश्वनाथ से लेंगे आशीर्वाद

Shailendra Singh

12वीं में आर्ट के रिजल्ट में अव्वल विद्यार्थियों को किया गया सम्मानित

mahesh yadav